2019 में अपग्रेड होने वाली है आपकी 'ज़िन्दगी'

2019 में अपग्रेड होने वाली है आपकी 'ज़िन्दगी'
Advertisement

नई दिल्ली: नए साल की तरफ हम तेजी से बढ़ रहे हैं. 2019 में टेक्नोलॉजी की दुनिया में बहुत कुछ खास होने वाला है. कई हसीन सपने हैं जो हकीकत में बदलने वाली है. इनमें सबसे पहला है 5G इंटरनेट क्रांति. उम्मीद है कि जून 2019 तक अमेरिका में 5जी सेवा शुरू हो जाएगी. इसी साल साउथ कोरिया, जापान और चीन में भी 5जी सेवा शुरू होने की संभावना है. सभी देशों में इस प्रोजेक्ट पर बहुत तेजी से काम चल रहा है. इस मामले में अपना देश भी पीछे नहीं है, लेकिन इसके लिए 2022 तक का इंतजार करना होगा. 5 जी इतना तेज होगा कि बफरिंग शब्द भूल जाएंगे. नेटवर्क गायब होना और कॉल ड्रॉप जैसी समस्या तो बिल्कुल भी नहीं होगी. आपको बता दें, 5जी के लांच होने से पहले ही कई मोबाइल कंपनियां 2019 में जो स्मार्टफोन लांच कर रही हैं, उनमें इसकी सुविधा दे रही हैं.

2019 में टेक्नोलॉजी की दुनिया में फोल्डेबल स्मार्टफोन का भी इंतजार है. इस स्मार्टफोन का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है. इसे अपनी सुविधा और जरूरत के मुताबिक, फोल्ड कर सकते हैं. सैमसंग फोल्डेबल फोन की झलक भी दिखा चुका है. सबसे बड़ी खासियत यह होगी कि जरूरत के समय इसका इस्तेमाल टेबलेट और बड़ी स्क्रीन की तरह किया जा सकेगा और जरूरत पूरी होने पर इसे फोल्ड कर पॉकेट में आसानी से रख पाएंगे.

इंटरनेट क्रांति की दिशा में एक और कदम बढ़ाने के लिए इसरो (ISRO-इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन) बहुत ही महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट पर काम कर रहा है. 2019 में चार सेटेलाइट को लांच करने की तैयारी है. अगर, यह प्रोजेक्ट सफल होता है तो भारत में इंटरनेट की दुनिया में एक और क्रांति आएगी. उम्मीद की जा रही है कि इस प्रोजेक्ट की सफलता के बाद अपने देश में 100 जीबीपीएस की इंटरनेट स्पीड मुमकिन हो पाएगी. इस दिशा में टेक्नोलॉजी एंटरप्रेन्योर एलन मस्क भी काम कर रहे हैं. उनकी कंपनी स्पेस एक्स ऐसे ही सेटेलाइट को लांच करने की तैयारी कर रही है, जिससे अफ्रीका समेत दुनिया के अन्य मुल्कों में इंटरनेट की पहुंच को बढ़ाई जाए.

Advertisement

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सालों से काम कर रहा है. हर फील्ड में इसका जबरदस्त तरीके से इस्तेमाल हो रहा है. आप सभी ऑटोमेशन और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसे शब्दों से पहले से वाकिफ होंगे. इसको लेकर कहा जाता है कि मशीन इंटेलिजेंस का इस्तेमाल कर रोजगार के अवसर कम किए जा रहे हैं. लेकिन, एक रिपोर्ट की माने तो 2020 तक मशीन इंटेलिजेंस की वजह से 2.3 करोड़ से ज्यादा रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे.

टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में जैसे-जैसे विकास हो रहा है, उसी तरह साइबर सुरक्षा का खतरा भी बढ़ रहा है. इस साल फेसबुक का डेटा ब्रीच सुर्खियों में रहा. माना जा रहा है कि साइबर सिक्योरिटी आने वाले सालों तक सुर्खियों में बना रहेगा. क्योंकि, टेक्नोलॉजी एक्सपर्ट के मुताबिक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जितना प्रभावी होगा, साइबर सिक्योरिटी का खतरा उतना ही बढ़ता जाएगा.

Tags:

tech news upcoming technology in 2019 ISRO इंटरनेट क्रांति
Advertisement