सोशल मीडिया में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का पहला मामला दर्ज

सोशल मीडिया में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का पहला मामला दर्ज
Advertisement

तीन दिन में स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देष

जशपुरनगर जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर डाॅ. प्रियंका शुक्ला द्वारा जनता कांग्रेस के जिला अध्यक्ष शशि कुमार भगत के 9 अक्टूबर के एक सोशल मीडिया स्टेट को आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए तीन दिवस के अन्दर स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का नोटिस दिया गया है।

 

Advertisement

जिला निर्वाचन अधिकारी ने अपने नोटिस में लिखा की शशि भगत के सोशल मीडिया स्टेटस से भारत के नागरिकों के विभिन्न वर्गों के बीच धर्म, मूलवंश, जाति, समुदाय इत्यादि के आधार पर शत्रुता या घृणा की भावना संप्रवर्धित करना या संप्रवर्धित करने का प्रयास करना परिलक्षित हुआ है। जिससे की सामाजिक समरसता तथा व्यक्तियों के बीच घृणा व वैमनस्य की भावनाएं उत्पन्न होना सम्भाव्य है। जो कि लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 125 तथा भारतीय दण्ड सहिता की धारा 153 (क) एवं 505 (2) के तहत् दण्डनीय अपराध है।

 

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर डाॅ. प्रियंका शुक्ला ने शशिकुमार भगत को उक्त कृत्य के संबंध में 3 दिवस के भीतर स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है। यदि निर्धारित अवधि में जवाब प्रस्तुत नही किया जाता है तो शशिकुमार भगत पर एकपक्षीय कार्यवाही की जाएगी।

Advertisement

 

आदर्श आचरण संहिता लागू होने के बाद सोशल मीडिया स्टेटस पर जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा यह राज्य में पहली कार्यवाही है।

Tags:

The first case of violation of a modal code of conduct in social media
Advertisement