अगवा बेटा नहीं मिला तो पिता ने जहर खा कर की आत्महत्या

अगवा बेटा नहीं मिला तो पिता ने जहर खा कर की आत्महत्या
Advertisement

अगवा बेटा नहीं मिला तो पिता ने खाया जहर, आत्महत्या से पहले के वीडियो में पुलिस भी लपेटे में

खडूर साहिब निवासी गुरदेव सिंह की पत्नी की कुछ साल पहले मौत हो चुकी है। 19 अगस्त को बेटा अगवा हो गया।

 

 

Advertisement

तरनतारन। जिले के गांव खडूर साहिब में एक व्यक्ति ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। असल में 10 दिन पहले उसके 11 साल के बेटे को अगवा कर लिया गया था। इस संबंध में इस शख्स ने आत्महत्या से पहले एक वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर भी पोस्ट किया था। इसमें वह एक महिला पर ब्लैकमेल कर 16 लाख रुपए ऐंठने का अारोप लगा चुका है, वहीं अगवा बेटे को ढूंढने के एवज में पुलिस के भी दो अफसरों द्वारा 50-50 हजार रुपए रिश्वत लेने का आरोप लगाया।

 

बताया जा रहा है कि खडूर साहिब निवासी गुरदेव सिंह की पत्नी की कुछ साल पहले मौत हो चुकी है। 19 अगस्त को उसके 11 साल के बेटे जश्नप्रीत सिंह को गांव के गुरविंदर सिंह ने अगवा कर लिया। इस संबंध में पुलिस में गुरविंदर सिंह के खिलाफ केस दर्ज कराया गया, लेकिन आरोप है कि पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही। आरोपी खुलेआम घूम रहा है। दूसरी ओर जांच के दौरान पता चला कि जश्नप्रीत सिंह को लेकर गुरविंदर सिंह गाजियाबाद चला गया। अपने बेटे को वापस लाने के लिए गुरदेव सिंह कई बार पुलिस के पास गया, लेकिन सुनवाई नहीं हुई।

Advertisement

 

साथ ही इस मामले में श्ह भी पता चला है कि गुरदेव सिंह के तरनतारन स्थित मोहल्ला खालसापुर निवासी शादीशुदा महिला सिमरनजीत कौर के साथ संबंध थे। वह काफी समय से गुरदेव सिंह पर परिवार को छोड़ उसके रहने के लिए दबाव बना रही थी। आरोप है कि महिला शादी की बात के नाम पर गुमराह करके गुरदेव सिंह से करीब 16 लाख रुपए भी ले चुकी थी। अब जबकि बेटे जश्नप्रीत सिंह काे अगवा कर लिया गया तो उसे शक था कि इसमें सिमरनजीत कौर का हाथ हो सकता है। मृतक गुरदेव के भाई बलदेव सिंह ने आरोप लगाया कि महिला लंबे समय से गुरदेव सिंह को ब्लैकमेल कर रही थी। मंगलवार रात सिमरनजीत कौर ने गुरदेव सिंह को अपने पास बुलाया था। इस दौरान गुरदेव सिंह ने जहरीला पदार्थ निगल कर आत्महत्या कर ली, इस बात का पता तब चला, जब गुरदेव सिंह का माता गंगा ग‌र्ल्स कॉलेज के समीप शव बरामद हुआ।

 

पुलिस वालों पर लगाया रिश्वत लेने का आरोप

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल कर गुरदेव सिंह ने वीडियो में गुरदेव सिंह ने महिला सिमरनजीत कौर द्वारा 16 लाख रुपये हड़प के बाद भी उसके साथ विवाह न करवाने का आरोप लगाया है। साथ ही कहा था कि उसके बेटे जश्नप्रीत सिंह को वापस लाने के लिए थानेदार कुलदीप सिंह और थाना गोइंदवाल साहिब के एसएचओ सुरिंदरपाल सिंह 50-50 हजार रुपए ले चुके हैं।

डीएसपी को सौंपी है जांच: एसएसपी

इस बारे में थाना सिटी के प्रभारी चंद्रभूषण का कहना है कि बलदेव सिंह के बयान के आधार पर पुलिस ने महिला सिमरनजीत कौर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। फिलहाल वह अभी फरार है। गुरदेव सिंह की जेब से उसका मोबाइल फोन गायब है। वहीं एसएसपी दर्शन सिंह मान का कहना है कि आत्महत्या करने वाले गुरदेव सिंह द्वारा सोशल मीडिया पर वीडियो डाला गया है, उसकी जांच डीएसपी गोइंदवाल साहिब हरदेव सिंह बोपाराय को सौंपी जा रही है। अगवा बच्चे की बरामदगी लिए अगर रिश्वत लेने का मामला साबित हुआ तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।

Tags:

Localnewsofindia
Advertisement