जातिवाद से ऊपर उठकर विकास के नाम पर भाजपा को वोट दें: मनोहर

जातिवाद से ऊपर उठकर विकास के नाम पर भाजपा को वोट दें: मनोहर
Advertisement

गुरुग्राम। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि जातिवाद से ऊपर उठकर अब विकास की बात करें। विकास के नाम पर वोट करें। भाजपा प्रत्याशी सुधीर सिंगला को वोट देकर बीजेपी की सरकार बनाने में अपना अहम योगदान दें। शहर के नुमाइंदगी करके सुधीर सिंगला यहां की जनता की उम्मीदों पर खरा उतरेंगे। यह बात उन्होंने यहां न्यू कालोनी के दशहरा मैदान में बीजेपी प्रत्याशी सुधीर सिंगला के समर्थन में आयोजित जनसभी में कही।  
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने यहां पर 26 मिनट तक भाषण दिया। यहां ईवीएम का मतलब समझाते हुये उन्होंने कहा कि-ऐवरी वोट फॉर मोदी-ऐवरी वोट फॉर मनोहर। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हर चुनाव के नजदीक आते ही पता चलता है कि कौन सी पार्टी आगे चल रही है। लेकिन जनता से छह माह पहले ही बता दिया कि बीजेपी ही आगे है और रहेगी। उनका इशारा लोकसभा चुनावों की तरफ था। उन्होंने 2014 से पूर्व की सरकारों पर कटाक्ष करते हुये कहा कि पहले सत्ता का लाभ अपनों को दिया जाता था। हमने पहले दिन से विचार किया कि सरकार कुछ लोगों के लिए नहीं चलानी। इसके गवाह उमेश अग्रवाल और राव नरबीर हैं। सरकार बनते ही सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों के लिए हमने पांच-पांच करोड़ रुपये की धनराशि जारी की। इसकी सरकार के विधायकों में तो चचाज़् हुई ही, साथ में विपक्ष में भी हुई। बात यहां तक कही गई कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल अनुभवहीन हैं। ये सरकार नहीं चला पायेंगे। जबकि उन्हें तो प्रदेश में रामराज्य स्थापित करना था और उसकी शुरुआत हो चुकी थी। वे हर मंगलवार और बुधवार को विधायकों की बैठक लेते थे। उन्होंने गुरुग्राम में आयुद्ध डिपो के 900 मीटर दायरे का जिक्र करते हुये वहां पर दी गई सुविधाओं की भी याद दिलाई। साथ ही उन्होंने गुरुग्राम के विकास को जीएमडीए के गठन को भी यहां भुनाया। चार मंजिला इमारतों की रजिस्ट्रियों को हरी झंडी देने की बात भी कही।

टिकट की बात पर मैं इशारे में जवाब देता हूं...

विधानसभा चुनाव में टिकटों के बंटवारे पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि चुनाव लडऩे वाले बहुत से नेताओं में इच्छा जागी। जीत सब सकते थे। लेकिन टिकट तो एक को ही मिलना था। जब उसने टिकट की बात पूछी जाती है तो वे इशारे में जवाब देते हैं। यह कहकर उन्होंने अपने माथे की ओर हाथ का इशारा किया यानी टिकट तो किस्मत वालों को मिलती है।

पीएम मोदी को बताया प्रेरणा स्त्रोत
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपना प्रेरणा स्त्रोत बताते हुये मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि 2009 में किसी ने नहीं सोचा था कि 2014 में बीजेपी की सरकार बनेगी। सरकार बनी तो मनोहर लाल मुख्यमंत्रीह होंगे यह भी नहीं सोचा था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यह कहते रहे हैं कि सबसे बड़ा चैलेंस मेरी बिरादरी है। बिरादरी से उनका मतलब किसी जात-पात से नहीं बल्कि नेताओं से है। वे चाहते थे कि देश के नेता अच्छे हों। काम करने वाले हों। ऐसे ही नेताओं को उन्होंने चुना है। 10 साल पहले नेता का मतलब गाली होता था, जो मानसिकता अब काफी हद तक बदली है। मोदी जी ने यह भावना पैदा की कि देश पहले, खुद बाद में हों। ना खाऊंगा ना खाने दूंगा मोदी जी ने कहा था। जबकि हमने कहा था कि ना खायेंगे, ना खाने देंगे और जो खा गये उनका निकाल लेंगे। यह बात भ्रष्टाचार के खात्मे को लेकर उन्होंने कही।

निर्दलीय के लिए गैंगस्टर वोट मांग रहे हैं

एक निर्दलीय प्रत्याशी के मंच पर एक बड़े गैंगस्टर के भाषण देने की भी कड़ी आलोचना की। सीएम ने कहा कि जिस प्रत्याशी के मंच पर गैंगस्टर भाषण दे रहे हों, लेकिन ऐसे व्यक्ति का क्या भरोसा कि कल वो ऐसे गैंगस्टर के इशारों पर न चले। इसलिए आपको सावधानी से चलना है। अफवाहों पर ध्यान नहीं देना। उन्होंने कहा कि गुरुग्राम अब मूलरूप से बीजेपी की सीट बन चुकी है। यहां से इस बार भी कमल के निशान को जिताना है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने यहां लोगों से कहा कि अब आपको कांग्रेसी व दूसरे लोग बहकाने आयेंगे। जाति का जहर घोलेंगे। झूठी बातें करेंगे, लेकिन आपको सावधान रहना होगा। उन्होंने कहा कि एक निदज़्लीय ने तो बहुत जोर लगाया कि उन्हें बीजेपी में शामिल कर लिया जाये। फिर टिकट भी दी जाये।पर उसे साफ मना कर दिया गया। उन्होंने यह भी कहा कि जिसे पहले भाजपा में एंट्री नहीं दी गई उसे चुनाव बाद भी शामिल नहीं किया जाएगा।

पार्टी में किसी का सम्मान नहीं घटेगा
उन्होंने इस मंच से यह भी कहा कि ना तो सम्मान उमेश अग्रवाल का घटेगा ना सम्मान राव नरबीर सिंह का घटेगा और ना ही आप सबका। नेताओं के सम्मान में उन्होंने कहा कि कोई अक्षर नहीं जो मंत्र में काम ना आये। कोई जड़ी नहीं जो दवा में काम ना आये और कोई व्यक्ति नहीं जो योजनायें बनाने में काम ना आये। इसलिए सभी का सम्मान होगा। उन्होंने सुधीर सिंगला को टिकट देकर उनके पिता स्वर्गीय श्री सीताराम सिंगला को श्रद्धांजलि देने की बात कही।

Tags:

SudhirSingla BJPHaryana
Advertisement