स्मार्ट ग्रिड योजना से सुधरेगी बिजली व्यवस्था: सीएम

स्मार्ट ग्रिड योजना से सुधरेगी बिजली व्यवस्था: सीएम
Advertisement

-बिजली आपूर्ति तंत्र में सुधार लाने के लिए 7,000 करोड़ रुपए की स्मार्ट ग्रिड योजना तैयार की गई है

 

-चार चरणों की इस योजना के पहले चरण के टेंडर 22 जुलाई को खुलेंगे

 

 चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि गुडग़ांव शहर में बिजली आपूर्ति तंत्र में सुधार लाने के लिए 7,000 करोड़ रुपए की स्मार्ट ग्रिड योजना तैयार की गई है। चार चरणों की इस योजना के पहले चरण के टेंडर 22 जुलाई को खुलेंगे।

मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार द्वारा गुडग़ांव में निर्बाध विद्युत आपूर्ति के लिए तैयार की स्मार्ट ग्रिड परियोजना को लेकर सोमवार को नई दिल्ली में हुई एक उच्च स्तरीय बैठक में यह बात कही।  

Advertisement

मनोहर लाल ने कहा कि इस योजना का उद्देश्य गुड़ग़ांव शहर को 24 घंटे सातों दिन गुणवत्तापरक निर्बाध आपूर्ति देना है ताकि डीजल से चलने वाले जनरेटर के इस्तेमाल की प्रवृत्ति को समाप्त किया जा सके। उन्होंने कहा कि नई योजना से न केवल पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा मिलेगा साथ बिजली आपूर्ति के मामले में बिल्डर व कॉलोनाइजर्स की भूमिका को भी समाप्त किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि यह योजना वर्तमान के साथ-साथ गुडग़ांव की भविष्य की मांग व आपूर्ति को लेकर तैयार की गई है। इस परियोजना के तहत विरासत में मिले पुराने आपूर्ति तंत्र को भी बदला जाएगा।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल तथा केन्द्रीय ऊर्जा, कोयला, अक्षय ऊर्जा एवं खान राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पीयूष गोयल की उपस्थिति में आयोजित इस बैठक में हरियाणा व केंद्र के उच्च अधिकारियों ने योजना की प्रगति की समीक्षा की। बैठक में स्मार्ट ग्रिड के प्रथम चरण के अलावा अक्षय ऊर्जा व अन्य मामलों पर भी चर्चा हुई। 

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल बैठक में स्मार्ट ग्रिड को लेकर हरियाणा सरकार की तैयारियों से बेहद आश्वस्त नजर आए। उन्होंने कहा कि गुडग़ांव को लेकर तैयार की गई हरियाणा की यह योजना देश में मिसाल बनेगी। उन्होंने गुडग़ांव को अंतरराष्ट्रीय महत्व का शहर बताते हुए इसे देश का गौरव बताते हुए कहा कि गुडग़ांव में बिजली वितरण का कायाकल्प होने से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत को एक नई पहचान मिलेगी। उन्होंने कहा कि स्मार्ट ग्रिड के पहले चरण में 1382 करोड़ रुपए का निवेश होगा और दूसरे चरण के लिए अध्ययन शुरू हो चुका है। 

Advertisement

हरियाणा बिजली विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजन गुप्ता ने केंद्रीय मंत्री व मंत्रालय के अधिकारियों को कार्यक्रम के बारे में विस्तृत जानकारी दी। बैठक में केन्द्रीय ऊर्जा सचिव पी. के. पुजारी, नई दिल्ली स्थित हरियाणा के प्रधान आवासीय आयुक्त आनंद मोहन शरण, ऊर्जा मंत्रालय में संयुक्त सचिव ज्योति अरोड़ा, गुडग़ांव के उपायुक्त टी. एल. सत्यप्रकाश, अतिरिक्त उपायुक्त एवं स्मार्ट ग्रिड के लिए नोडल अधिकारी विनय प्रताप सिंह सहित संबंधित अधिकारी भी उपस्थित रहे।  

 

 

 

Tags:

haryana news gurgaon news state news chandigarh news स्मार्ट ग्रिड योजना बिजली व्यवस्था CM Khattar Electricity in haryana Piyush goyal
Advertisement