सिम्बा मूवी का पहला Review आ गया है, जानिए कैसी है फिल्म?

सिम्बा मूवी का पहला Review आ गया है, जानिए कैसी है फिल्म?
Advertisement

स्टार: रणवीर सिंह, सारा अली खान, सोनू सूद, आशुतोष राणा और अन्य

सर्टिफिकेट : U/A

अवधि: 2 घंटा 45 मिनट

Advertisement

क्रिटिक्स रेटिंग : 1

ऑडियंस रेटिंग्स: 3.5

चेन्नई एक्सप्रेस, सिंघम और गोलमाल अगेन जैसी मसालेदार मनोरंजक फ़िल्में बनाने वाले रोहित शेट्टी 2018 के अंत में सिम्बा लेकर आए हैं. सिम्बा, दक्षिण की फिल्म टेम्पर का रीमेक है. हालांकि इसमें हिंदी ऑडियंस के हिसाब से बदलाव भी किए गए हैं. पहली बार रोहित शेट्टी ने रणवीर सिंह और सारा अली खान को लेकर फिल्म बनाई है. इसमें उनकी पुरानी टीम, अजय देवगन और 2019 में अक्षय कुमार के साथ सूर्यवंशी की झलक भी है. आइए जानते हैं कैसी बन पड़ी है रणवीर की फिल्म...
फिल्म की कहानी

Advertisement

फिल्म की कहानी एक पुलिस कॉप की है. ये उसी शिवगढ़ से शुरू होती है, जहां सिंघम खत्म हुई थी. एक अनाथ बच्चा है संग्राम भालेराव यानी सिम्बा. वो ग़लत धंधों में है, लेकिन कुछ ऐसा होता है कि उसने पुलिस अफसर बनने की ठान ली है. अफसर भी इसलिए बनना चाहता कि पावरफुल हो और ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाए. कैसे भी. ग़लत कामों के साथ मेहनत करते हुए परदे पर नौजवान पुलिस अफसर सिम्बा (रणवीर सिंह) एंट्री मारते हैं. सिम्बा मसखरा है, टपोरी है और हीरो है तो जाहिर सी बात है प्रेमी भी है. पर शर्मीला और बेपरवाह, घूस भी वसूलता है. फिल्म के शुरू के दो फ्रेम में हीरो, विलेन और दूसरे किरदार के साथ कहानी साफ़ है.

संग्राम भालेराव का तबादला दुर्वा रानाडे (सोनू सूद) के इलाके में होता है. रानाडे गोवा का ताकतवर डान है. वह अपने भाइयों सदाशिव और गौरव रानाडे के साथ ड्रग स्मगलिंग से लेकर जमीन कब्जाने तक के तमाम गैर कानूनी काम करता है. नई पोस्टिंग में आते ही सिम्बा, मेडिकल की पढ़ाई कर रही उस लड़की को अपनी बहन बना लेता है, जो अनाथ बच्चों को फुटपाथ पर पढ़ाने का काम करती है.

सिम्बा की मुलाक़ात थाने के सामने कैटरिंग का बिजनेस चलाने वाली सारा अली खान से भी हो जाती है. पहली नजर में ही सिम्बा उसे दिल दे बैठता है. सारा के पिता पुलिस अफसर थे और एक एनकाउंटर में उनकी मौत हो गई थी. इंस्पेक्टर तावड़े, सीनियर कांस्टेबल नित्यानंद मोहिले मोहिले (आशुतोष राणा), कांस्टेबल धोरकर और तमाम दूसरे किरदारों का परिचय सामने आता है.

सिम्बा नई पोस्टिंग में आकर घूसखोरी और मसखरी जारी रखता है. सिम्बा, रानाडे के लिए पैसे के बदले काम करने लग है. इस बीच सारा अली खान से उसकी प्रेम कहानी भी आगे बढ़ रही है. हालांकि सीनियर कांस्टेबल मोहिले (आशुतोष राणा), सिम्बा से नाराज है और उसे ग़लत रास्ते पर चलने से बार बार आगाह करता रहता है. कहानी में सबकुछ ठीक ठाक चल रहा है इसी बीच इंटरवल से पहले सिम्बा के साथ कुछ ऐसा होता है जो उसकी जिंदगी को बदल कर रख देती है. सिम्बा के साथ ऐसा क्या होता है, क्यों वह रानाडे के खिलाफ चला जाता है और क्यों बेईमानी के रास्ते को छोड़ता है? इन तमाम बातों के लिए फिल्म देखने जाना होगा.

कलाकारों का अभिनय कैसा है?

सारा अली खान अपनी दूसरी ही फिल्म में साबित कर देती हैं कि अगर उन्हें स्क्रीन पर बढ़िया स्पेस मिला तो वो बहुत आगे तक जाएंगी. उनका किरदार ज्यादा बड़ा नहीं था. लेकिन वो कैमरे के सामने अच्छी और विश्वास से भरी नजर आती हैं. सारा की आंखों में एक्टिंग नजर नहीं आती. रणवीर का टपोरी किरदार देखकर कभी कभी अनिल कपूर की याद आती है.

सिम्बा में भी अनिल के 'राम लखन' जैसा किरदार है. लेकिन ये उतना दमदार नहीं है जितनी उम्मीद थी और कभी अनिल ने उसे शिद्दत से पर्दे पर निभाया था. इंटरवल से पहले और बाद में रणवीर के किरदार के दो शेड्स हैं. किरदार की डिमांड के हिसाब से दोनों को असरदार होना था, घूसखोर टपोरी के रोल में रणवीर प्रभावित नहीं करते हैं. शुरुआती फ्रेम में तो वे ओवर एक्टिंग करते दिखते हैं. हालांकि चुटीले वन लाइनर संवादों ने उन्हें बचा लिया है. लेकिन एंग्री यंगमैन के किरदार में उनके हर इमोशन बेहद उम्दा बनकर दिखाई देते हैं. वो अपनी एक्टिंग की रौ में दर्शकों को बहा ले जाते हैं.

सोनू सूद ने अच्छा काम किया है. डॉन, भाई पति और पिता के किरदार में वो जमे हैं. पर सिंघम में विजय राज के जैसा किरदार सिम्बा में नहीं गढ़ा गया. ये सोनू सूद का दुर्भाग्य ही कहा जाएगा. आशुतोष राणा, अश्विनी कलसेकर, विपिन शर्मा सिद्धार्थ जाधव, अमृत पाल सिंह, नौशाद अब्बास और दूसरे कलाकारों का अभिनय भी अपनी लेंथ के हिसाब से ठीक ठाक है.

Tags:

Entertainment news Bollywood news Movie Reviews Simmba movie Movie Review Ranveer singh Sara ali khan Rohit shetty
Advertisement