पत्नी का प्रचार करने पहुंचे शत्रुघ्न सिन्हा ने अखिलेश को बताया PM उम्मीदवार

पत्नी का प्रचार करने पहुंचे शत्रुघ्न सिन्हा ने अखिलेश को बताया PM उम्मीदवार
Advertisement

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी से बगावत कर कांग्रेस में शामिल हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री और फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने सपा प्रमुख के पक्ष में खुलकर बयान दिया है. शत्रुघ्न सिन्हा ने अखिलेश यादव को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बताया है. वह लखनऊ से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहीं पत्नी पूनम सिन्हा के नामांकन और रोड शो में शामिल होने लखनऊ पहुंचे थे.

शत्रुघ्न सिन्हा ने यह भी कहा कि वह इस कार्यक्रम में वह कांग्रेस के सहयोग से शामिल हुए हैं. ऐसे में सवाल उठने लगे हैं कि आखिर कांग्रेस ने आचार्य प्रमोद कृष्णम को क्यों टिकट दिया है. दूसरी ओर आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा है कि शत्रुघ्न सिन्हा ने पति धर्म निभाया है अब पार्टी धर्म का पालन करें और एक दिन मेरे लिए भी प्रचार करें.

इस बारे में जब आज तक ने शत्रुघ्न सिन्हा से सवाल किया तो उन्होंने कहा कि वे कांग्रेस की पार्टी की सहमति मिलने के बाद ही प्रचार कर रहे हैं. शत्रुघ्न सिन्हा ने बीजेपी के लिए कहा कि बीजेपी का विनाश काल आ रहा है इसलिए बुद्धि विपरीत हो गई है. शत्रुघ्न ने यह भी कहा कि उनके न रहने की वजह से बीजेपी का बड़े स्तर पर नुकसान होगा.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फेंकू बताते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, 'पप्पू कौन है और फेंकू कौन है इस बात की जानकारी सबको हो गई है.'

Advertisement

लखनऊ रैली के दौरान शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस और समाजवादी पार्टी में सामंजस्य बैठाते नजर आए. भले ही उत्तर प्रदेश में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी में गठबंधन नहीं है फिर भी अपने बयानों से वे बड़े संतुलित नजर आए लेकिन एक जगह उनसे चूक हो गई. उन्होंने कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की जगह से समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बता दिया.  

शत्रुघ्न सिन्हा ने एनडीए सरकार पर सत्ता में आने के लिए ज्यादा पैसे खर्च करने की बात कही. उन्होंने कहा कि कितना प्रचार तन्त्र कितना धन तन्त्र खर्च कर के यह सरकार आई है. पीएम के उम्मीदवार अखिलेश यादव ने कर के दिखा दिया.'

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के सवाल पर शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि वे मानते हैं कि ईवीएम में गड़बड़ी की गई लेकिन इसके बाद भी राहुल गांधी चुनाव जीतने में कामयाब हो गए. उन्होंने इस बात का दावा भी किया कि ईवीएम में गड़बड़ी की गई.

Advertisement

भाजपा के बागी होने के सवाल पर उन्होंने कहा, 'भाजपा में रहते हुए जितनी मैंने आवाज उठाई, उतनी किसी ने नहीं उठाई.' शत्रुघ्न सिन्हा यहीं नहीं रुके. उन्होंने नोटबंदी के मुद्दे पर भी बीजेपी की आलोचना की साथ ही नोटबंदी के फैसले को देश के खिलाफ भी बताया.

राफेल डील मामले पर संयुक्त संसदीय समति (जेपीसी) के गठन न करने पर शत्रुघ्न ने सवाल खड़े किए. साथ ही बीजेपी की ओर से टिकट न दिए जाने को शत्रुघ्न ने तकलीफदेह बताया. कांग्रेस पार्टी के समर्थन में भी शत्रुघ्न खुलकर बोले. उन्होंने कहा कि सबसे ज्यादा काबिल लोग कांग्रेस पार्टी में हैं. उन्होंने कहा कि पूनम सिन्हा के नामांकन में वे कांग्रेस के सहयोग से ही शामिल हुए हैं.

गौरतलब है कि पिछले दिनों बीजेपी छोड़कर शत्रुघ्न सिन्हा ने कांग्रेस का दामन थाम लिया था. कांग्रेस ने उन्हें बिहार की पटना साहिब सीट से उम्मीदवार बना दिया है जहां से वह फिलहाल सांसद हैं. पटना से भाजपा प्रवक्ता और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद चुनाव लड़ रहे हैं.

Tags:

Political news Loksabha election 2019 शत्रुघ्न सिन्हा Shatrughn Sinha Akhilesh yadav,
Advertisement