सर्जिकल स्ट्राइक पर लगी RTI पर आया जवाब, 2016 से पहले नहीं हुई ऐसी कोई कार्रवाई

सर्जिकल स्ट्राइक पर लगी RTI पर आया जवाब, 2016 से पहले नहीं हुई ऐसी कोई कार्रवाई
Advertisement

नई दिल्ली। यूपीए सरकार के समय छह सर्जिकल स्ट्राइकों के दावों के बीच एक आरटीआई में रक्षा मंत्रालय की ओर से मिले जवाब में खुलासा हुआ है कि साल 2016 के पहले कहीं भी ऐसी स्ट्राइक नहीं की गई थी। सूचनाधिकार के तहत मांगी गई जानकारी में रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि अभी तक सिर्फ एक सर्जिकल स्ट्राइक हुई है। 

आरटीआई में यह जानकारी मांगी गई थी कि सितंबर 2016 के पहले भी कोई सर्जिकल स्ट्राइक हुई थी या नहीं? इसके जवाब में रक्षा मंत्रालय ने कहा कि इस तरह की किसी भी कार्रवाई का कोई भी पिछला रिकॉर्ड रक्षा मंत्रालय में मौजूद नहीं है। केंद्र सरकार की ओर से आए जवाब में यह भी कहा गया कि सितंबर 2016 की सर्जिकल स्ट्राइक में किसी भी तरह की कोई भी क्षति रक्षा बलों के जवानों को नहीं हुई थी।

इससे पहले कांग्रेस के प्रवक्ता राजीव शुक्ला ने दावा किया था कि पिछली मनमोहन सरकार के दौरान पाकिस्तान के खिलाफ छह बार सर्जिकल स्ट्राइक की गई थी। उन्होंने कहा था कि पहली सर्जिकल स्ट्राइक 19 जून 2008 में जम्मू और कश्मीर में पूंछ के भट्टल सेक्टर में हुई थी। दूसरी 30 अगस्त से लेकर 1 सितंबर 2011 तक नीलम घाटी के शारदा सेक्टर में की गई थी। तीसरी सर्जिकल स्ट्राइक 6 जनवरी 2013 को सावन पत्र चेकपोस्ट पर की गई थी।

Advertisement

कांग्रेस प्रवक्‍ता ने यह भी बताया था कि चौथी सर्जिकल स्ट्राइक 27 और 28 जुलाई 2013 को नजरपुर सेक्टर में की गई थी जबकि पांचवीं नीलम घाटी में 6 अगस्त 2013 को और छठी 14 जनवरी 2014 को की गई थी। जम्मू के रहने वाले आरटीआई एक्टीविस्ट रोहित चौधरी ने रक्षा मंत्रालय से सूचना के अधिकार के तहत उक्‍त जानकारी मांगी थी।

बता दें कि कांग्रेस के दावे के बाद राजस्थान के सीकर में एक चुनावी सभा के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने विपक्षी पार्टी पर तीखा हमला बोला था। उन्होंने कहा था कि यह कैसी स्ट्राइक थी भाई, जिसके बारे में आतंकियों को कुछ नहीं पता, स्ट्राइक करने वालों को कुछ नहीं पता, पाकिस्तान को कुछ नहीं पता और न देश की जनता को कुछ पता है। प्रधानमंत्री कहा था कि कांग्रेस में ऐसे लोग है जो सर्जिकल स्ट्राइक को भी वीडियो गेम समझकर आनंद लेते होंगे। एसी कमरों में बैठकर कागज में सर्जिकल स्ट्राइक कांग्रेस ही कर सकती है। 

Tags:

National news सर्जिकल स्ट्राइक Surgical strike RTI on Surgical strike
Advertisement