हुड्डा संग कुलदीप को हरियाणा कांग्रेस की कमान सौंपने की तैयारी

हुड्डा संग कुलदीप को हरियाणा कांग्रेस की कमान सौंपने की तैयारी
Advertisement

चंडीगढ़/गुरुग्राम। जींद उपचुनाव की हार ने हरियाणा कांग्रेस में बदलाव की पटकथा लिख दी थी। कांग्रेस के नए प्रभारी गुलाम नबी आजाद अगले दो-तीन दिन में हरियाणा कांग्रेस में चार बड़े निर्णय ले सकते हैं। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को हरियाणा कांग्रेस का अध्यक्ष तथा कुलदीप बिश्नोई को कांग्रेस विधायक दल का नेता बनाया जा सकता है।

कांग्रेस हरियाणा के लिए अलग से चुनाव घोषणा पत्र कमेटी का भी ऐलान करने वाली है। इसकी बागडोर हरियाणा कांग्रेस के मौजूदा अध्यक्ष डाॅ. अशोक तंवर को सौंपी जा सकती है, लेकिन हुड्डा गुट इस कमेटी में भी अपनी पसंद को तरजीह देने का दबाव पार्टी हाईकमान पर बना रहा है।

हरियाणा की चुनाव प्रचार समिति की जिम्मेदारी पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारी सैलजा को सौंपी जा सकती है। पहले भूपेंद्र हुड्डा को ही प्रचार समिति की जिम्मेदारी देने का प्रस्ताव था, लेकिन हुड्डा खेमे के विधायकों ने हाईकमान पर हुड्डा को कमान सौंपने का दबाव ज्यादा ही बढ़ा दिया है। हुड्डा समर्थक विधायकों की दलील है कि हरियाणा में कांग्र्रेस की सत्ता में वापसी के लिए हुड्डा को फ्री-हैैंड दिया जाना जरूरी है।

Advertisement

विभिन्न मौकों पर हुड्डा की राजनीतिक ताकत आंक चुके कांग्रेस हाईकमान को भी हुड्डा समर्थक विधायकों की यह दलील समझ में आ रही है। हुड्डा को पहले सीएम पद का उम्मीदवार भी घोषित किए जाने की संभावना थी, लेकिन तमाम नेताओं की आपसी गुटबाजी को बढ़ने से रोकने के लिए कांग्रेस हाईकमान फिलहाल हुड्डा को सीएम पद का उम्मीदवार घोषित नहीं करेगा।

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि अगले दो से तीन दिन में चारों कमेटियों की घोषणा संभव है। चुनाव घोषणापत्र कमेटी में नामों को शामिल करने पर अभी सर्वसम्मति नहीं बन पाई है। इससे देरी हो रही है। हुड्डा बुधवार को चंडीगढ़ में ही थे। उन्हें अचानक दिल्ली बुला लिया गया। कांग्रेस के दिग्गज नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला प्रदेश के साथ-साथ केंद्र की राजनीति कर रहे हैैं। माना जा रहा कि किसी भी समय नए जिम्मेदारियों का एलान संभव है।

Tags:

National news Political news haryana news Bhupinder Singh hooda Kuldeep Bishnoi
Advertisement