इंदौर: PM मोदी बोले बोहरा समाज की राष्ट्रभक्ति देश के लिए मिसाल

Advertisement

इंदौर की सैफी मस्जिद से PM मोदी ने दी बोहरा समाज की राष्ट्रभक्ति की मिसाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को इंदौर में हज़रत इमाम हुसैन की शहादत के स्मरणोत्सव 'अशरा मुबारका'कार्यक्रम में हिस्सा लिया. ये कार्यक्रम दाऊदी बोहरा मुस्लिम समुदाय के द्वारा आयोजित किया गया. प्रधानमंत्री के साथ बोहरा समुदाय के 53वें धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन भी मौजूद रहे.

 

Advertisement

बोहरा समाज के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है, जब किसी प्रवचन कार्यक्रम में कोई प्रधानमंत्री शामिल हो रहा है. शिवराज सरकार ने सैफुद्दीन को राजकीय अतिथि का दर्जा दिया है.

 

सैफी मस्जिद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आप सभी के बीच में आना हमेशा मुझे प्रेरणा देता है, एक नया अनुभव देता है. अशरा मुबारक, के इस पवित्र अवसर पर आपने मुझे बुलाया इसलिए आपका आभारी हूं. उन्होंने कहा कि बोहरा समाज ने हमेशा से शांति का पैगाम रहा है. प्रधानमंत्री ने कहा कि इमाम हुसैन अमन और इंसाफ के लिए शहीद हो गए.

Advertisement

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि शांति का संदेश देने की यही शक्ति हमें दुनिया से अलग बनाती है, बोहरा समाज दुनिया को हमारे देश की ताकत बता रहा है. पीएम ने कहा कि हमें अपने अतीत पर गर्व है, वर्तमान पर विश्वास है. बोहरा समाज ने शांति के लिए जो योगदान दिया है, उसकी बात हमेशा मैं दुनिया के सामने करता हूं.

 

उन्होंने कहा कि बोहरा समाज की भूमिका राष्ट्रभक्ति के प्रति सबसे अहम रही है. धर्मगुरु अपने प्रवचन के माध्यम से अपनी मिट्टी से मोहब्बत की बातें कहते हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि बोहरा समाज के साथ मेरा रिश्ता काफी पुराना है, मैं इस परिवार का सदस्य हूं. मेरे दरवाजे आपके लिए हमेशा खुले हैं. उन्होंने कहा कि जन्मदिन से पहले ही मुझे इस पवित्र मंच से आशीर्वाद मिला है.

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि जब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था तब बोहरा समाज हमेशा मेरे साथ था. कई बार मैं धर्मगुरु जी से मिलने सूरत के एयरपोर्ट पर मिलने चला गया. PM मोदी बोले कि तब मैंने उनसे गुजरात में पानी की चिंता की, और उन्होंने इसके लिए तभी काम करना शुरू कर दिया.

 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज बोहरा समाज कई तरह से स्वास्थ्य के लिए समाज में मदद कर रहा है. सरकार भी लोगों के स्वास्थ्य के लिए चिंता कर रही है और लगातार हम काम कर रहे हैं. हमने दवाईयों के दाम कम कर दिए हैं, आयुष्मान भारत के जरिए 50 करोड़ लोगों को मेडिकल की सुविधा मुफ्त में मिलेगी.

 

प्रधानमंत्री बोले कि अभी तक बोहरा समाज के लोगों ने करीब 11000 लोगों को अपना घर दिया है, हमारी सरकार भी 2022 तक सभी को घर देना चाहती है. और हमने 1 करोड़ लोगों को घर की चाबी सौंप भी दी है. उन्होंने कहा कि जल्द ही हमारा देश खुले में शौच करने से मुक्त हो जाएगा.

 

उन्होंने कहा कि समाज के बीच से ही ऐसे लोग निकलते हैं जो धांधली को ही कारोबार मानते हैं, आप बोहरा समाज के लोग ईमानदारी से कारोबार कर देश के लिए संदेश दे रहे हैं. हमारी सरकार की नीतियों के कारण आज देश की विकास की रफ्तार तेजी से बढ़ रही है, हमारी नज़र अब जीडीपी के नंबरों को दहाई तक पहुंचाने पर है.

बोहरा धर्मगुरु ने जमकर की मोदी की तारीफ

बोहरा समुदाय के 53वें धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन ने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा कि आज इमाम हुसैन के शहादत की याद में प्रधानमंत्री का हमारे गम में शरीक होना बड़ी बात है. उन्होंने कहा कि अल्लाह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस वतन को आगे ले जाने की शक्ति दे.

 

उन्होंने कहा कि वतन से मोहब्बत, वतन से वफादारी, कानून में भागीदारी ही भारत के मुसलमानों का इमान है. बोहरा धर्मगुरु ने कहा कि मुसलमानों को गुजरात, महाराष्ट्र समेत देश के हर हिस्सों में मोहब्बत मिलती है.

 

इस मौके पर शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आज का दिन भारत के इतिहास में ऐतिहासिक होने वाला है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का सपना है कि 2022 तक हर किसी के सिर पर छत हो, बोहरा समाज और हमारे प्रधानमंत्री दोनों ही गरीबों के दुख दूर करने में लगे हुए हैं.

 

शिवराज ने कहा कि अपने मुल्क से मोहब्बत करने वाला, दूसरों की मदद करने वाला और अनुशासित अगर कोई समाज है तो वो बोहरा समाज है.

 

बता दें कि पीएम मोदी बोहरा समुदाय के इस कार्यक्रम स्थल सैफी मस्जिद पर 30 मिनट रुकेंगे. मध्य प्रदेश में दो महीने के बाद विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में पीएम का बोहरा मुस्लिम समुदाय के धर्मगुरु से मिलने के कार्यक्रम के राजनीतिक मायने निकाले जाने लगे हैं.

 

बता दें कि सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन इंदौर 20 दिवसीय दौरे पर आए हैं. इस दौरान वे प्रवचन देने के साथ तीन मस्जिदों का उद्घाटन भी करेंगे. बोहरा समुदाय के धर्मगुरु से मिलने और उनके प्रवचन को सुनने के लिए 40 से ज्यादा देशों के करीब 1.7 लाख लोगों के इंदौर पहुंचने की उम्मीद है.

 

सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन के इंदौर पहुंचने पर लोकसभा अध्यक्ष एवं स्थानीय सांसद सुमित्रा महाजन, प्रदेश के सहकारिता राज्य मंत्री विश्वास सारंग, रतलाम-झाबुआ क्षेत्र के लोकसभा सांसद कांतिलाल भूरिया और अन्य नेताओं ने स्वागत किया है.

Tags:

Prime Minister Narendra Modi on Friday participated in the 'Ashra Mubaraka' program commemorating the martyrdom of Hazrat Imam Hussein in Indore.
Advertisement