वर्ल्डकप के लिए पंत और रायडू को रखा स्टैंडबाई पर

वर्ल्डकप के लिए पंत और रायडू को रखा स्टैंडबाई पर
Advertisement

नई दिल्ली. बीसीसीआई ने बुधवार को युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत और अनुभवी बल्लेबाज अंबाती रायडू का नाम भारत की वर्ल्ड कप टीम में स्टैंडबाई खिलाड़ियों के तौर पर शामिल किया। इंग्लैंड एंड वेल्स में 30 मई से होने वाले वर्ल्ड कप के लिए तेज गेंदबाज नवदीप सैनी भी इस सूची में जगह बनाने में सफल रहे हैं। किसी खिलाड़ी के चोटिल होने पर टीम इंडिया इनकी सेवाएं ले सकती है।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने यह भी स्पष्ट किया कि वर्ल्ड कप के लिए चुने गए 15 खिलाड़ियों का यो-यो टेस्ट नहीं होगा।

सोमवार को वर्ल्ड कप के लिए चुनी गई टीम इंडिया के खिलाड़ियों की सूची में पंत और रायडू का नाम शामिल नहीं था। इसके बाद सुनील गावस्कर ने पंत के नहीं चुनी जाने पर हैरानी जताई थी, जबकि गौतम गंभीर ने चयनकर्ताओं द्वारा रायडू की अनदेखी को दुर्भाग्यपूर्ण बताया था।

Advertisement

खिलाड़ियों को चुनने का बीसीसीआई के पास अब भी विकल्प

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने संभावित खिलाड़ी चुनने की प्रक्रिया खत्म कर दी है। हालांकि, बीसीसीआई के पास किसी अन्य को भी चुनने का विकल्प रहेगा। वैसे टीम में बदलाव किए जाने की संभावना बहुत कम है। बीसीसीआई के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने बताया, ‘आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी की तरह, हमारे पास 3 स्टैंडबाई हैं। ऋषभ पंत पहले और अंबाती रायडू दूसरे स्टैंडबाई हैं, जबकि नवदीप सैनी गेंदबाजों की सूची में शामिल हैं। इसलिए यदि कोई चोटिल होता है, तो जरूरत के मुताबिक, तीनों में से कोई एक जाएगा।’

खलील, दीपक, आवेश स्टैंडबाई नहीं

Advertisement

यद्यपि खलील अहमद, आवेश खान और दीपक चाहर टीम के साथ विशुद्ध तौर पर नेट गेंदबाज के तौर पर जाएंगे। यदि प्रबंधन को लगता है तो उन्हें भी शामिल किया जा सकता है। पदाधिकारी ने बताया, ‘खलील, आवेश और दीपक स्टैंडबाई खिलाड़ी नहीं हैं। गेंदबाजों के मामले में, ऐसी संभावना होती है, लेकिन जब विशुद्ध तौर पर बल्लेबाज की बात आएगी तब ऋषभ या रायडू ही होंगे।’

रायडू ने ट्वीट कर प्रसाद पर तंज कसा था

रायडू ने मंगलवार को ट्वीट कर मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद पर तंज कसा था। उन्होंने ट्वीट किया था, ‘वर्ल्ड कप देखने के लिए अभी-अभी 3-डी ग्लास ऑर्डर किए हैं।’ प्रसाद ने टीम का ऐलान करने के दौरान कहा था, ‘हमने रायडू को कुछ और मौके दिए, लेकिन विजय शंकर ने ‘3-डायमेंशन’ दिया। वे बल्लेबाजी कर सकते हैं। अगर परिस्थितियां प्रतिकूल हैं तो वे गेंदबाजी कर सकते हैं। साथ ही वे एक अच्छे क्षेत्ररक्षक भी हैं। हम विजय शंकर को नंबर 4 के बल्लेबाजी के तौर पर देख रहे हैं।’ 

IPL के कारण यो-यो टेस्ट नहीं लेने का फैसला किया
पदाधिकारी ने बताया, ‘अन्य घटनाक्रम में, वर्ल्ड कप के लिए चुने गए टीम इंडिया के खिलाड़ियों को कोई यो-यो टेस्ट नहीं देना होगा। दरअसल, इंग्लैंड में 30 मई से वर्ल्ड कप होना है, जबकि आईपीएल 12 मई को खत्म होगा। आईपीएल के खत्म होने के बाद उन्हें रिकवरी टाइम की भी जरूरत होगी।’ टीम इंडिया का वर्ल्ड कप में पहला मैच दक्षिण अफ्रीका से 5 जून को है।

Tags:

Sports news Cricket news बीसीसीआई BCCI Rishabh Pant Ambati Rayudu Navdeep Saini World cup 2019
Advertisement