एनएसयूआई प्रत्याशी खून से सनी शर्ट में वोट मांगने पहुंचा, एबीवीपी ने बताया नौटंकी

एनएसयूआई प्रत्याशी खून से सनी शर्ट में वोट मांगने पहुंचा, एबीवीपी ने बताया नौटंकी
Advertisement

जयपुर: खून से सनी शर्ट में वोट मांगने पहुंचा एनएसयूआई प्रत्याशी; एबीवीपी ने बताया नौटंकी

छात्रसंघ चुनाव: आज सुबह 8 बजे से दोपहर एक बजे तक वोटिंग

जयपुर.  जोधपुर संभाग को छोड़कर प्रदेशभर में गुरुवार को छात्रसंघ चुनाव होंगे। मतदान सुबह 8 बजे से दोपहर एक बजे तक होगा। इस बीच, बुधवार रात राजस्थान यूनिवर्सिटी में एनएसयूआई प्रदेशाध्यक्ष अभिमन्यु पूनिया और अध्यक्ष पद के प्रत्याशी रणवीर सिंघानिया पर हुए कथित हमले से सियासत गर्मा गई। छात्रों संगठनों की यह  सियासी जंग कांग्रेस-भाजपा के नेताओं तक पहुंच गई। एनएसयूआई ने हमले के पीछे एबीवीपी का हाथ बताया। एबीवीपी ने इसे नाटकीय घटनाक्रम बताते हुए कहा कि चोटेंं दिखावटी हैं। सहानुभूति बटोरने के लिए यह सब किया गया है। भाजपा-कांग्रेस में भी बयानबाजी शुरू हो गई। उधर, अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद पूनिया और सिंघानिया गुरुवार सुबह सीधे यूनिवर्सिटी पहुंचे। उन्होंने वही फटी शर्ट पहनी थी, जो हमले में फट गई थी। हाथ में ड्रिप लगी थी। दोनों यूनिवर्सिटी के मुख्य गेट पर धरने पर बैठ गए। एडीसीपी हनुमान प्रसाद मीना ने बताया- देर रात दो छात्रों से मारपीट के मामले में एफआईआर दर्ज कर टीम गठित की गई है। टीम ने कई से पूछताछ की। कुछ लड़कों के नाम भी सामने आए हैं। जल्द खुलासा किया जाएगा कि ये हमला है या आपसी मारपीट का केस है।

सियासत : आरयू कैम्पस से शुरू हुई जंग भाजपा-कांग्रेस तक पहुंंची.. आरोप-प्रत्यारोप

Advertisement

आरयू कैंपस से...एबीवीपी ने कराया हमला, सरकार साथ है : एनएसयूआई
सरकार के इशारे पर चुनाव चल रहे हैं। इनमें धन-बल का प्रयोग हो रहा है। आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए जेएलएन मार्ग पर पोस्टर लगाए गए। इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। एबीवीपी ने हम पर हमला करा दिया। हमें टारगेट किया जा रहा है। - अभिमन्यु पूनिया, प्रदेशाध्यक्ष, एनएसयूआई

 

सब नौटंकी, सहानुभूति बटोरना चाहते हैं : एबीवीपी 

Advertisement

हमले की कोई घटना नहीं हुई। एनएसयूआई ने चुनाव में सहानुभूति बटोरने के लिए एक झूठा नाटक रचा है। इनकी मेडिकल रिपोर्ट सार्वजनिक की जानी चाहिए। यह एक ऐसा हमला है कि जिसका कोई चश्मदीद नहीं है। एनएसयूआई ने कांग्रेस के बड़े नेताओं को भी गुमराह किया है। -अर्जुन तिवाडी, प्रांत संगठन मंत्री, एबीवीपी

 

...स्टेट पॉलीटिक्स तक

सीएम की यात्रा पर पत्थर फेंकने वालों को जेल जाना पड़ा, पहले उनके बारे में सोचे कांग्रेस: कटारिया : कानून सबके लिए बराबर है। जो भी दोषी होगा, उस पर कानूनी कार्रवाई होगी। एनएसयूआई के नेताओं पर मारपीट को लेकर कांग्रेसी नेता गलत बयानबाजी कर रहे हैं। ऐसे नेता पहले उन लोगों के बारे में सोचे जिन्होंने सीएम की यात्रा पर पथराव किया था। उन लोगों का सीधा कनेक्शन कांग्रेस से हैं और वे सब लोग जेल में हैं। - गुलाबचंद कटारिया, गृहमंत्री

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का ट्वीट :  राजस्थान विश्वविद्यालय के एनएसयूआई प्रत्याशी रणवीर सिंघानिया, एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु पूनिया पर अटैक करने वाले दोषियों को सरकार तुरंत गिरफ्तार करे। पूरे प्रकरण की जांच की जाए। मैं पूरी घटना की निंदा करता हूं और दोनों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

Tags:

Polling student wing elections Jaipur today
Advertisement