आते ही मोदी सरकार ने दी पेंशन स्‍कीम की फाइल को मंजूरी

आते ही मोदी सरकार ने दी पेंशन स्‍कीम की फाइल को मंजूरी
Advertisement

मोदी कैबिनेट में मंत्रालयों का बंटवारा हो गया है. इसके साथ ही मोदी सरकार के मंत्री एक्‍शन मोड में भी आ गए हैं. इसी के तहत नई सरकार के श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने पेंशन स्‍कीम की फाइल पर साइन करने का ऐलान किया है. 

उन्‍होंने कहा कि वह असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को 3000 हजार रुपये की मासिक पेंशन देने की फाइल पर साइन करने वाले हैं. इस फाइल पर साइन होने के साथ ही मजदूर वर्ग के लोगों के लिए पेंशन स्‍कीम लागू हो जाएगी.

क्‍या है पेंशन स्‍कीम 
दरअसल, बीते अंतरिम बजट में मोदी सरकार ने मजदूर वर्ग के लिए भी  ''प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन'' नाम से एक बड़ी योजना का ऐलान किया गया है. इस योजना का लाभ घरेलू कामगार, रिक्शा चालक, कृषि मजदूर और बीड़ी मजदूरों समेत उन हर लोगों को मिलेगा जिनकी महीने की कमाई सिर्फ 15000 रुपये या उससे कम है. चूंकि यह पेंशन योजना है, इसलिए इसका फायदा 60 साल की उम्र के बाद मिलेगा. इस उम्र के बाद हर महीने कामगार को 3000 रुपये की मासिक पेंशन मिलेगी. 

Advertisement

हालांकि इस योजना की कुछ शर्तें भी हैं. इस योजना का फायदा 18 साल से 40 साल तक की उम्र का कोई भी असंगठित क्षेत्र का कर्मचारी उठा सकता है. जिस शख्‍स की उम्र 18 साल है, उसे 55 रुपये प्रति माह का योगदान देना होगा. वहीं 29 साल की उम्र के लोगों को पेंशन के लिए 100 रुपये प्रति माह जमा कराने होंगे.  

सरकार के इस कदम से उन घरेलू नौकरानियों , ड्राइवरों, प्लबंर, बिजली का काम करने वाले कामगारों को फायदा हो सकता है, जो 15000 की सैलरी से कम कमाई कर पाते हैं.  इस दायरे में 10 करोड़ कामगारों के आने की उम्‍मीद है. 

Tags:

National news Political news PM Modi Pension Scheme
Advertisement