National Herald Case: हरियाणा में ED ने अटेच की केस से जुड़ी संपत्तियां

National Herald Case: हरियाणा में ED ने अटेच की केस से जुड़ी संपत्तियां
Advertisement

गुरुग्राम। नेशनल हेराल्‍ड मामले से जुड़े मनी लांड्रिंग केस में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने केस से जुड़ी गुड़गांव और पंचकूला स्थित 64 करोड़ की संपत्तियों का अटेचमेंट कर दिया है।ED द्वारा अटेच की गई यह संपत्तियां नेशनल हेराल्‍ड और एसोसिएटेड जर्नल्‍स लिमिटेड से संबंधित हैं। 

इनमें पंचकूला के सेक्‍टर 6 स्थित प्‍लॉट नंबर सी-17 भी शामिल है। ईडी के मुताबिक हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा द्वारा एसोसिएटेड जर्नल्‍स लिमिटेड (AJL) को यह संपत्ति आवंटित की गई थी। नेशनल हेराल्ड मामले में ED ने पिछले साल दिसंबर में पंचकूला स्थित प्रॉपर्टी का अटेचमेंट किया था। मामले में कार्यकारी अथॉरिटी ने अटेचमेंट पर 21 मई को अंतिम मोहर लगाई। अब ED ने यह संपत्ति अटेच करने की जानकारी दी है।

बता दें, जब जमीन अलॉट की गई थी तब तत्कालीन मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के चेयरमैन थे, जबकि मोती लाल वोहरा AJL हाउस के चेयरमैन थे। दोनों के खिलाफ 1 दिसंबर को चार्जशीट दाखिल हो चुकी है।

Advertisement

यह है पूरा मामला

24 अगस्त 1982 को पंचकूला सेक्टर-6 में 3360 वर्गमीटर का प्लॉट नंबर सी -17 तत्कालीन सीएम चौधरी भजनलाल ने अलॉट कराया। कंपनी को इस पर 6 माह में निर्माण शुरू करके दो साल में काम पूरा करना था, लेकिन कंपनी 10 साल में भी ऐसा नहीं कर पाई। 30 अक्टूबर 1992 को हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (HUDA) ने अलॉटमेंट कैंसिल करके प्लॉट को रिज्यूम कर लिया।

26 जुलाई 1995 को मुख्य प्रशासक HUDA ने एस्टेट ऑफिसर के आदेश के खिलाफ कंपनी की अपील खारिज कर दी। 14 मार्च 1998 को कंपनी की ओर से आबिद हुसैन ने चेयरमैन HUDA को प्लॉट का अलॉटमेंट बहाली के लिए अपील की। 14 मई 2005 को चेयरमैन HUDA ने अफसरों को AJL कंपनी के प्लॉट अलॉटमेंट की बहाली की संभावनाएं तलाशने को कहा, लेकिन कानून विभाग ने अलॉटमेंट बहाली के लिए साफतौर पर इन्कार कर दिया।

Advertisement

18 अगस्त 1995 को फ्रेश अलॉटमेंट के लिए आवेदन मांगे गए। इसमें AJL कंपनी को भी आवेदन करने की छूट दी गई। 28 अगस्त 2005 को हुड्डा ने AJL को ही 1982 की मूल दर पर प्लॉट अलॉट करने की फाइल पर साइन कर लिए। साथ ही कंपनी को 6 माह में निर्माण शुरू करके 1 साल में काम पूरा करने को भी कहा गया। सीएम HUDA ने भी पुरानी रेट पर प्लॉट अलॉट करने के आदेश दिए।

एसोसिएटड जर्नल लिमिटेड (AJL) के अखबार नेशनल हेराल्ड के लिए पंचकूला में नियमों के खिलाफ जमीन आवंटन का आरोप है। इस मामले में सतर्कता विभाग ने मई 2016 में पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर केस दर्ज किया गया है। यह मामला हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (HUDA) की शिकायत पर दर्ज हुआ है। चूंकि मुख्यमंत्री HUDA के पदेन अध्यक्ष होते हैं। यह गड़बड़ी हुड्डा के कार्यकाल में हुई, इसलिए उनके खिलाफ यह मामला दर्ज हुआ है। हरियाणा अर्बन डेवलपमेंट अथॉरिटी (HUDA) को करीब 62 लाख रुपये का नुकसान पहुंचाए जाने का आरोप है।

Tags:

State news Haryana news चंडीगढ़ नेशनल हेराल्‍ड National Herald ED https://www.khabarlive.in/news/tag
Advertisement