#VoteKaro: साध्वी प्रज्ञा ने डाला वोट, दिग्विजय खुद के लिए नहीं कर पाए मतदान

#VoteKaro: साध्वी प्रज्ञा ने डाला वोट, दिग्विजय खुद के लिए नहीं कर पाए मतदान
Advertisement

भोपाल लोकसभा सीट की प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने रविवार को भोपाल में अपना वोट डाला। हालांकि उनके खिलाफ इस सीट से लड़ रहे कांग्रेस के प्रत्याशी व दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह यहां खुद के लिए ही वोट नहीं डाल पाए, क्योंकि वह भोपाल लोकसभा सीट के मतदाता नहीं हैं। साध्वी प्रज्ञा ने आज सुबह रेवेरा टाउन मतदान केंद्र पर अपना वोट डाला।

मतदान करने के बाद प्रज्ञा ने मीडिया से कहा कि यह धर्मयुद्ध है। उन्होंने कहा कि पूरे देश में भाजपा को पहले से भी ज्यादा सीटें मिलेंगी और नरेंद्र मोदी फिर से प्रधानमंत्री बनेंगे।

प्रज्ञा साल 2008 में हुए मालेगांव विस्फोट मामले में आरोपी हैं और फिलहाल जमानत पर हैं। भाजपा ने दिग्विजय के खिलाफ प्रज्ञा को उतारकर हर किसी को चौंका दिया था। दोनों उम्मीदवारों ने यहां धुआंधार प्रचार किया और हिंदुत्व का मुद्दा जमकर भुनाया।  

Advertisement

दरअसल, मतदाता सूची में दिग्विजय सिंह का नाम मध्यप्रदेश के राजगढ़ लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले उनके पैतृक कस्बे राघौगढ़ में पंजीबद्ध है। इसलिए वह खुद के लिए भोपाल लोकसभा सीट से वोट नहीं डाल पाएंगे। 

दिग्विजय 10 साल तक (वर्ष 1993 से वर्ष 2003 तक) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। 

भाजपा द्वारा हिन्दुत्व चेहरा साध्वी प्रज्ञा को दिग्विजय के खिलाफ चुनावी मैदान में उतारने के बाद भोपाल सीट देश की हॉट सीट बन गई है। चुनाव प्रचार के दौरान यह सीट मुख्य रूप से चर्चा का विषय रही।

Advertisement

भाजपा का गढ़ कही जाने वाली इस सीट से दिग्विजय को जिताने के लिए कम्प्यूटर बाबा यहां धूनी जलाकर कई साधु-संतों के साथ हठ योग पर बैठे थे। कम्प्यूटर बाबा ने दिग्विजय सिंह को जिताने के लिए न केवल उनका प्रचार किया, बल्कि तंत्र-मंत्र का सहारा भी लिया है। कम्प्यूटर बाबा ने साधु-संतों के साथ उनके लिए रोड शो भी किया, जो पूरी तरह से भगवा रंग में रंगा नजर आया।

Tags:

National news Election news Loksabha election 2019 साध्वी प्रज्ञा Sadhvi Pargya
Advertisement