हरियाणा: CIA ने मारा नकली सिक्के बनाने वाली फैक्टरी पर छापा

हरियाणा: CIA ने मारा नकली सिक्के बनाने वाली फैक्टरी पर छापा
Advertisement

 बहादुरगढ़। झज्जर के बहादुरगढ़ में सीआईए स्टाफ ने नकली सिक्के बनाने वाली फैक्टरी का भंडाफोड़ किया है। नकली सिक्कों को एक महिला की मदद से होटल, टोल और दूसरी जगहों पर सप्लाई किया जाता था। गणपति धाम में पिछले कई महीनों से नकली सिक्के बनाने का काम चल रहा था। फरीदाबाद की क्राइम ब्रांच ने इस फैक्टरी का भंडाफोड़ किया है।

क्राइम ब्रांच की टीम ने फरीदाबाद से तीन पुरुष और 1 महिला को ढाई लाख के नकली सिक्कों के साथ इनोवा कार से गिरफ्तार किया। यह सभी आरोपित फरीदाबाद में सिक्के सप्लाई करने के लिए गए हुए थे। पूछताछ में पता चला कि यह सिक्के बहादुरगढ़ के गणपति धाम में स्थित एक फैक्टरी में बनाए जा रहे हैं और पिछले काफी लंबे समय से नकली सिक्के बनाने का काम यहां पर चल रहा था।

लाखों रुपये के नकली सिक्के अब तक आरोपित बाजार में दे चुके हैं। डीएसपी अजायब सिंह ने बताया कि चारों आरोपितों को फरीदाबाद क्राइम ब्रांच की पुलिस बहादुरगढ़ लेकर पहुंची है। साथ ही बहादुरगढ़ पुलिस ने पूरे मामले की जांच में फिलहाल जुटी हुई है। बहादुरगढ़ के गणपति धाम में पकड़ी गई फैक्टरी में 5 रुपये के नकली सिक्के बनाए जाने का काम जोरों से चल रहा था।

Advertisement

ढाई लाख रुपए के सिक्के आरोपितों के कब्जे से बरामद हुए थे। वहीं करीब लाखो के नकली सिक्के फैक्टरी के अंदर से भी बरामद किए गए। आरोपितों ने फैक्टरी के अंदर मशीनें लगा रखी हैं, आरोपित लोहे की प्लेट को काटकर सिक्के बनाते थे और उस पर निकल पोलिस कर सिक्के का रंग देते थे। फिर डाई की मदद से सिक्का बनाया जाता था।

आरोपित चोरी छुपे एक महिला की मदद से हरियाणा और देश की राजधानी दिल्ली के कई हिस्सों में यह नकली सिक्के सप्लाई करने का काम करते थे। इतना ही नहीं होटल, टोल और ऐसे बाजार जहां पर 5 रुपये के सिक्के की जरूरत है। वहां यह सप्लाई किए जाते थे। यह आरोपित इंडियन गवर्नमेंट मिंट नोएडा की फर्जी पर्ची लगाकर इन सिक्कों को सप्लाई करते थे। ताकि किसी को इनके नकली होने का शक ना हो और आराम से यह सिक्के बाजार में उतारे जा सके।

फर्जी सिक्के बनाने के लिए आरोपितों ने बहादुरगढ़ के गणपति धाम में फैक्टरी किराये पर ले रखी थी, जहां पर यह धड़ल्ले से काम कर रहे थे और न जाने कितने करोड रुपये सिक्के अब तक बाजार में भेज चुके होंगे। फिलहाल आरोपितों को कोर्ट में पेश किया जाएगा। जहां से रिमांड पर लेकर उनसे आगे पूछताछ की जाएगी। आरोपितों से पूछताछ में और भी कई बड़े खुलासे होने की उम्मीद बनी हुई है। इतना ही नहीं जितने बड़े स्तर पर 5 रुपये के नकली सिक्के बनाने और उन्हें सप्लाई करने का काम किया जा रहा था।

Advertisement

Tags:

CIA Raid Haryana news State news Fake Currency
Advertisement