छत्तीसगढ़: भारी बारिश के कारण रायपुर-धमतरी के स्कूलों में छुट्टी, 24 घंटे का रेड अलर्ट जारी

छत्तीसगढ़: भारी बारिश के कारण रायपुर-धमतरी के स्कूलों में छुट्टी, 24 घंटे का रेड अलर्ट जारी
Advertisement

छत्तीसगढ़: भारी बारिश के कारण रायपुर-धमतरी के स्कूलों में की गई छुट्टी, धमतरी में 24 घंटे में बरसा 188 मिमी पानी

स्कूलों में की गई छुट्टियां, गंगरेल डैम के 8 गेट खोले गए, गरियाबंद से रायपुर का संपर्क कटा

रायपुर के तेलीबांधा क्षेत्र में में सड़क पर भरा पानी

रायपुर/धमतरी। पिछले 48 घंटे से राजधानी रायपुर सहित प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में लगातार बारिश का दौर जारी है। अगले 2 से 3 दिनों तक बारिश से राहत मिलने की संभावना नहीं है। इसे देखते हुए रायपुर और धमतरी के स्कूलों में छुट्टी कर दी गई है। मौसम विभाग ने राज्य के चार जिलों रायपुर, बस्तर, दुर्ग और बिलासपुर मे 24 घंटे का रेड अलर्ट जारी किया है। साथ ही 48 घंटे के लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है। गंगरेल बांध के 8 गेट खोल दिए गए हैं। इससे महानदी के किनारे बसे जिलों महासमुंद, रायपुर, गरियाबंद, जिंदगीर, बिलासपुर और रायगढ़ बाढ़ आने की आशंका है। वहीं, भारी बारिश के चलते गरियाबंद का रायपुर से संपर्क कट गया है।  

Advertisement

 

24 घंटे के दौरान धमतरी में सबसे ज्यादा बारिश 

जिला बारिश (मिमी)
धमतरी 187.8
बालोद 175.3
गरियाबंद 128.4
कांकेर 112.6
महासमुंद 110
दुर्ग  74.2
रायपुर 72.7

 

Advertisement

रायपुर के कई इलाकों में भरा पानी:  राजधानी रायपुर में तीन दिन से बारिश का दौर जारी है। शहर के कई इलाकों में पानी भर गया है। महात्मा गांधी नगर, अमलीडीह पानी से लबालब भर गया है। डॉ राजेन्द्र प्रसाद वार्ड पूरा पानी में डूबा हुआ है। रायपुर के अधिकांश स्कूलों ने सोमवार को हो रही भारी बारिश के कारण छुट्टी घोषित कर दी। जो स्कूल खुले भी उन्होंने भी बारिश बढ़ने पर कलेक्टर के निर्देश पर बच्चों को घर भेज दिया। 

 

गंगरेल डैम के गेट खोले गए, 6 जिलों के लिए अलर्ट:  लगातार हो रही बारिश के कारण धमतरी स्थित गंगरेल डैम के 8 गेट खोल दिए गए हैं। वहां से 10 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। इसके साथ ही महानदी में जल स्तर बढ़ना शुरू हो गया है। बताया गया है कि दोपहर 3.30 बजे तक डैम के सभी 14 गेट खोल दिए जाएंगे। इसे देखते हुए महानदी के किनारे बसे महासमुंद, रायपुर, गरियाबंद, जिंदगीर, बिलासपुर और रायगढ़ जिलों के लिए अलर्ट जारी किया गया है। साथ ही एसडीआरएफ को भी तैयार रहने के लिए आदेश दिए गए हैं।

 

बिजली सप्लाई बाधित:  जगह-जगह सड़कों पर पहाड़ टूटकर गिरने से रास्ते बाधित हुए हैं। जिले में कई स्थानों पर पेड़ भी टूट-टूट कर गिरे हैं। मकानों और बिजली के तारों पर पेड़ गिरने से बिजली सप्लाई बाधित हुई है। दुधावा बांध का भी गेट खोला गया है। जिसके बाद लोगों के घरों में पानी भर गया है। कई ग्रामीण क्षेत्रों का जिला मुख्यालय, ब्लॉक और तहसील मुख्यालय से संपर्क  कट गया है। गरियाबंद-रायपुर मार्ग पूरी तरह से पानी में डूब चुका है। इसके चलते उसका रायपुर से संपर्क पूरी तरह से कट गया है। 

 

मौसम विभाग ने एनडीआरएफ के साथ रेलवे को भी भेजा अलर्ट: बारिश को देखते हुए मौसम विभाग ने एनडीआरएफ और रेलवे को भी अलर्ट किया है। प्रदेश में हो रही बारिश से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। छत्तीसगढ़ शासन के साथ ही दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर, नागपुर और बिलासपुर मंडल को सतर्क रहने के लिए कहा गया है। 

 

Tags:

Localnewsofindia
Advertisement