बेटे-बहू की प्रताड़ना से परेशान बुजुर्ग किसी भी समय पहुंचकर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकेगा

बेटे-बहू की प्रताड़ना से परेशान बुजुर्ग किसी भी समय पहुंचकर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकेगा
Advertisement

रायपुर: घर-घर दस्तक देकर सीनियर सिटीजन को पुलिस वाले बता रहे- बेटा बहू तंग करें तो सीधे थाने पहुंचें, दर्ज होगा केस

रायपुर.पुलिस थानों में घरेलू हिंसा या प्रताड़ना के शिकार बुजुर्गों के लिए अलग डेस्क बना दिया गया है। इस हेल्प डेस्क में बेटे-बहू की प्रताड़ना से परेशान बुजुर्ग किसी भी समय पहुंचकर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। उनकी शिकायत पर सीधे एफआईआर दर्ज की जाएगी।

पुलिस मुख्यालय में गठित सीनियर सिटीजन सेल का दायरा बढ़कर अब थानों तक पहुंच गया है। बुजुर्गों की मदद के लिए शुरू की गई इस सुविधा की जानकारी देने खुद पुलिस वाले घर-घर पहुंच रहे हैं। इसके लिए मुहिम नए रायपुर से शुरू की गई है। यहां अलग-अलग इलाकों में कैंप लगाकर लोगों को जानकारी देने के अलावा लोगों के घरों में दस्तक देकर पुलिस अफसर व सेल की टीम पूछ रही है- बेटा, बहु परेशान तो नहीं कर रहे हैं?

Advertisement

सीनियर सिटीजन का ख्याल रखने के लिए सख्त कानून:सरकार ने सीनियर सिटीजनों के लिए सख्त कानून बनाया है। उस कानून के तहत परिजनों को तंग करने वाले बहू-बेटे की शिकायत होते ही सीधे केस दर्ज करना है। अभी तक ये कानून सेल के रूप में पुलिस मुख्यालय में काम कर रहा था, लेकिन अब इसका दायरा थानों तक बढ़ाया जा रहा है। सभी थानों में स्पेशल डेस्क आकार ले रही है। इसमें महिला और पुरुष पुलिस को रखा जा रहा है, ताकि शिकायत करने कोई भी पहुंचे, उन्हें दिक्कत न हो। अभी इसकी जानकारी लोगों को नहीं है। इस वजह से पुलिस मुख्यालय के निर्देश पर ही अफसरों व सेल की टीम फील्ड में उतर रही है। पहले चरण में मोहल्लों और बस्तियों में जाकर बुजुर्गों को कानून की जानकारी दी जा रही है। नए कानून के प्रावधानों को बताया जा रहा है। नए कानून के प्रावधानों के अनुसार जो बुजुर्ग अपनी संपत्ति संतानों को सौंप चुके हैं, अगर उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है तो वे वापस ले सकते हैं।

हेल्प लाइन नंबर 18001801253 में सीधे कर सकते हैं शिकायत:पुलिस अफसरों ने बताया कि सीनियर सिटीजन के लिए हेल्प लाइन नंबर 18001801253 जारी किया गया है। यह टोल फ्री नंबर है। इसमें फोन कर कोई भी बुजुर्ग अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं। पुलिस और प्रशासन की टीम शिकायत मिलने के बाद तुरंत उनके बताए हुए पते पर पहुंचेगी। उन्हें कानून के प्रावधान के मुताबिक हर तरह की मदद निशुल्क दिलाई जाएगी।

Tags:

Localnewsofindia
Advertisement