शर्मनाक: छेड़खानी का विरोध करने पर 34 छात्राओं के साथ मारपीट, एक नाबालिग समेत 9 गिरफ्तार

शर्मनाक: छेड़खानी का विरोध करने पर 34 छात्राओं के साथ मारपीट, एक नाबालिग समेत 9 गिरफ्तार
Advertisement

बिहार: एक तरफ जहां देश में महिलाओं के साथ किए जाने वाले उत्पीड़न के विरोध में #MeToo मुहिम चलाई जा रही है, तो वहीं दूसरी तरफ बिहार में छात्राओं के साथ मारपीट का मामला सामने आया है. बिहार के सुपौल में छेड़खानी का विरोध करने पर 34 छात्राओं की बेरहमी से पिटाई कर दी गई. अब इस मामले में गिरफ्तारी का दौर जारी है.

 

सुपौल के त्रिवेणीगंज के ASP ने इस मसले पर कहा कि अभी तक कुल 9 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है, इनमें से एक नाबालिग भी है. उन्होंने कहा कि हम इस मामले में जांच करके ही गिरफ्तारी कर रहे हैं. हम नहीं चाहते हैं कि कोई बेकसूर गिरफ्तार हो.

Advertisement

 

बता दें कि शनिवार को मनचलों ने स्कूल में घुसकर यहां रहने वाली लड़कियों के साथ मारपीट की थी, जिसमें 35 से ज्यादा लड़कियां घायल हो गई थीं.

 

Advertisement

पीड़ित छात्राओं का कहना है कि छात्राएं जब परिसर में खेल रही थी उसी दौरान बाहर से मनचलेअभद्र टिप्पणियां करने लगे, लड़कियों ने जब इसकी शिकायत शिक्षकों से की उसके बाद यहमनचले वहां से चले गए लेकिन उसके बाद अपने कई साथियों और गांव के लोगों के साथ लौटे और स्कूल में घुसकर मारपीट की.

 

हमले को लेकर बिहार के नेता प्रतिपक्ष और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर ट्वीट के जरिए हमला किया. तेजस्वी ने अपने ट्वीट में यह लिखा था कि 'बिहार में सुपौल के त्रिवेणीगंज के कस्तूरबा गांधी गर्ल्स स्कूल में घुसकर असामाजिक तत्वों द्वारा हॉस्टल में रहने वाली 34 छात्राओं को बुरे तरीके से मारा-पीटा गया है. बेख़ौफ गुंडों की मार से घायल सभी छात्राओं को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सरकार नरम है, अपराध चरम पर है.'

Tags:

Bihar: 9 arrested including 34 minors,#including a minor
Advertisement