मतदाता जागरूक अभियान शासकीय कार्यालयों और सार्वजनिक स्थलों में चलाने के दिये निर्देश

मतदाता जागरूक अभियान शासकीय कार्यालयों और सार्वजनिक स्थलों में चलाने के दिये निर्देश
Advertisement

पढ़ें: 2018 चुनाव की प्रशासनिक तैयारी, किसे क्या मिली जिम्मेदारी

मुख्य सचिव ने की समीक्षा

रायपुर: मुख्य सचिव अजय सिंह ने बुधवार को मंत्रालय महानदी भवन में विधानसभा निर्वाचन 2018 की प्रशासनिक तैयारियों की समीक्षा विभिन्न विभाग के अधिकारियों की बैठक में की। मुख्य सचिव ने विधानसभा निर्वाचन की तैयारियों के संबंध में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की है। उन्होंने अधिकारियों को मतदाता जागरूक अभियान शासकीय कार्यालयों और सार्वजनिक स्थलों में चलाने के निर्देश दिये हैं। 

 

Advertisement

मुख्य सचिव ने विधानसभा निर्वाचन की विभागीय तैयारियों के लिए विभिन्न विभागों की जिम्मेदारी तय की है इसमें सभी जिलों के जिला निर्वाचन अधिकारियों की वेबसाईड अद्यतन रखें जाने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी विभाग, राज्य सूचना अधिकारी और राष्ट्रीय सूचना केन्द्र के अधिकारियों को जिम्मेदारी दी है। मतदान केन्द्रों में पेयजल की व्यवस्था लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधिकारी करेंगे। मतदान केन्द्रों में प्रसाधन इत्यादि की व्यवस्था पंचायत एवं ग्रामीण विकास और नगरीय विकास विभाग द्वारा की जायेगी। मतदान केन्द्रों में बिजली की व्यवस्था ऊर्जा विभाग करेगा। राज्य के सभी जिलों में दूरसंचार व्यवस्था को सुदृढ़ करने का काम सूचना प्रौद्योगिकी और भारत संचार निगम लिमिटेड के अधिकारी सुनिश्चित करेंगे। 

 

रोड नेटवर्क सुधारने का कार्य लोक निर्माण, पंचायत और वन विभाग करेंगे। राज्य के वामपंथ उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में निर्वाचन संबंधी सभी आवश्यक तैयारियां गृह विभाग द्वारा की जायेगी। निर्वाचन के दौरान राज्य में कहीं पर अवैध मंदिरा का विक्रय न हो तथा अवैध नगदी धन जप्ति इत्यादि पर त्वरित कार्यवाही आबकारी विभाग और गृह विभाग करेंगे। इसी प्रकार निर्वाचन संबंधी अपराधों के निर्वतन पर गृह विभाग त्वरित कार्यवाही सुनिश्चित करेगा।

Advertisement

 

बैठक में पुलिस महानिदेशक ए.एन. उपाध्याय, कृषि विभाग के अपर मुख्य सचिव सुनील कुजूर, वन विभाग के अपर मुख्य सचिव सी.के. खेतान, ग्रामीण विकास विभाग के सचिव आर.पी. मण्डल, वित्त तथा गृह विभाग के प्रमुख सचिव अमिताभ जैन, सामान्य प्रशासन विभाग की सचिव रीता शांडिल्य, राजस्व विभाग के सचिव एन.के. खाखा सहित लोक निर्माण, वाणिज्यिककर (आबकारी), अनुसूचित जाति एवं जनजाति, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, स्वास्थ्य, नगरीय प्रशासन, ऊर्जा, भारत संचार निगम लिमिटेड, राष्ट्रीय सूचना केन्द्र, जनसम्पर्क विभाग के अधिकारी सहित अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Tags:

Localnewsofindia
Advertisement