कांग्रेस से जुड़े 687 फर्जी फेसबुक पेज किए गए डिलीट

कांग्रेस से जुड़े 687 फर्जी फेसबुक पेज किए गए डिलीट
Advertisement

नई दिल्ली: आम चुनाव के लिए पहले चरण के मतदान में अब कुछ दिन ही बचे हैं, इस बीच फेसबुक ने कांग्रेस पार्टी से जुड़े 687 पेजों को अपने प्लैटफॉर्म से हटा दिया है। सोमवार को सोशल मीडिया कंपनी ने कहा कि 'अप्रमाणिक व्यवहार' के चलते देश की मुख्य विपक्षी पार्टी से जुड़े इन पेजों को हटाया गया है। फेसबुक ने संभवत: पहली बार इस तरह का ऐक्शन लिया है, जब किसी बड़ी राजनीतिक पार्टी से जुड़े पन्नों को हटाया गया है। फेसबुक ने साफ किया है कि इन पन्नों को उनमें प्रकाशित सामग्री की बजाय उनके 'इनऑथेंटिक बिहेवियर' यानी अप्रामाणिक जानकारी के चलते हटाया गया है। 

भारत में दुनिया में सबसे ज्यादा 30 करोड़ फेसबुक यूजर हैं। फेसबुक ने कहा कि उसने अपनी जांच में पाया है कि लोगों ने फेक अकाउंट्स बनाए और अलग-अलग ग्रुप्स से जुड़कर कॉन्टेंट को फैलाया और लोगों के बीच संपर्क बढ़ाने का काम किया। फेसबुक ने कहा कि इन फेक पन्नों में लोकल न्यूज के अलावा मुख्य विक्षी दल बीजेपी और पीएम नरेंद्र मोदी की आलोचना भी की जाती थी। 

फेसबुक के साइबर सिक्यॉरिटी पॉलिसी के हेड नाथनेल ग्लेचियर ने कहा, 'लोगों ने अपनी पहचान को छिपाकर यह काम करने का प्रयास किया, लेकिन हमने अपनी जांच में पाया कि ऐसे पन्ने कांग्रेस की आईटी सेल के लोगों से जुड़े थे।' उन्होंने कहा कि इन अकाउंट्स को कॉन्टेंट नहीं बल्कि अप्रमाणिक व्यवहार के चलते हटाया जा रहा है।

Advertisement

बता दें कि भारत में 11 अप्रैल से 19 मई तक 7 चरणों में आम चुनाव के लिए मतदान होना है और 23 मई को नतीजों का ऐलान होना है। फेसबुक ने हटाए गए पन्नों के दो सैंपल भी पेश किए हैं, जिनमें पीएम नरेंद्र मोदी के प्रयासों की आलोचना की गई है और कांग्रेस एवं उसके अध्यक्ष राहुल गांधी को समर्थन करने की अपील की गई है। 

पाकिस्तानी सेना से जुड़े 103 पन्नों को भी हटाया 
सोशल मीडिया की दिग्गज कंपनी ने कहा कि उसने पाकिस्तानी सेना के जनसंपर्क विभाग से जुड़े 103 पन्नों को भी हटाने का फैसला लिया है। इनका संचालन पाकिस्तान से ही होता था। दुनिया भर की कई अथॉरिटीज ने फेसबुक पर राजनीतिक लाभ के लिए फर्जी जानकारियां फैलाने वाले अकाउंट्स पर ऐक्शन लेने का दबाव बनाया था। 

Tags:

Tech news Fake Facebook pages Fake Facebook pages of congress Facebook
Advertisement