• क्रिकेटर ऑफ़ द इयर में 'कोहली की हैट्रिक'

    क्रिकेटर ऑफ़ द इयर में 'कोहली की हैट्रिक'

    अवॉर्ड के लिए चुने जाने के बाद कोहली ने कहा, "यह कैलेंडर ईयर में किए गए मेहनत का फल है। आईसीसी से विश्व स्तर पर पहचान मिलना एक ऐसी चीज है, जिस पर आप गर्व महसूस करते हैं।

  • क्रिकेटर ऑफ़ द इयर में 'कोहली की हैट्रिक'

    क्रिकेटर ऑफ़ द इयर में 'कोहली की हैट्रिक'

    अवॉर्ड के लिए चुने जाने के बाद कोहली ने कहा, "यह कैलेंडर ईयर में किए गए मेहनत का फल है। आईसीसी से विश्व स्तर पर पहचान मिलना एक ऐसी चीज है, जिस पर आप गर्व महसूस करते हैं।

  • इस स्टार खिलाड़ी की टीम इंडिया में हुई वापसी

    इस स्टार खिलाड़ी की टीम इंडिया में हुई वापसी

    फिलहाल टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेल रही है जिसका तीसरा टेस्ट बुधवार को मेलबर्न में शुरु हो रहा है.

  • इस स्टार खिलाड़ी की टीम इंडिया में हुई वापसी

    इस स्टार खिलाड़ी की टीम इंडिया में हुई वापसी

    फिलहाल टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेल रही है जिसका तीसरा टेस्ट बुधवार को मेलबर्न में शुरु हो रहा है.

  • गुडगाँव में खिलाडियों को खेल विभाग द्वारा मिलेगी भरपूर सुविधा: राज यादव

    खेल विभाग में राज यादव ने जिला खेल अधिकारी (डीएसओ) के रूप में कार्यभार संभाला राज यादव इससे पूर्व रेवाड़ी में तैनात थी गुरुवार को राज ने गुडगाँव टुडे से खास बातचीत की जिसमे राज ने जिले में चल रही खेल गतिविधियों की जानकारी प्रदान

  • गुडगाँव में खिलाडियों को खेल विभाग द्वारा मिलेगी भरपूर सुविधा: राज यादव

    खेल विभाग में राज यादव ने जिला खेल अधिकारी (डीएसओ) के रूप में कार्यभार संभाला राज यादव इससे पूर्व रेवाड़ी में तैनात थी गुरुवार को राज ने गुडगाँव टुडे से खास बातचीत की जिसमे राज ने जिले में चल रही खेल गतिविधियों की जानकारी प्रदान

  • गुडगाँव में खिलाडियों को खेल विभाग द्वारा मिलेगी भरपूर सुविधा: राज यादव

    खेल विभाग में राज यादव ने जिला खेल अधिकारी (डीएसओ) के रूप में कार्यभार संभाला राज यादव इससे पूर्व रेवाड़ी में तैनात थी गुरुवार को राज ने गुडगाँव टुडे से खास बातचीत की जिसमे राज ने जिले में चल रही खेल गतिविधियों की जानकारी प्रदान

  • गुरूग्राम की  गोल्डन गर्ल माही ने झटके 10 पदक

    गुरूग्राम की गोल्डन गर्ल माही ने झटके 10 पदक

    गुरूग्राम के वजीरपुर गाव की रहने वाली आठ साल की बेटी माही चौहान ने ग्वालियर मेंं खेली गई नेशनल जिम्रास्टीक चैपियनशिप मेंं 10 पदक जीत कर प्रदेश व शहर का नाम रोशन किया है। माही की इस उपलब्धि पर जिला परिषद्र के पार्षदो ने माही को सम्मानित किया। कहते है कि मन मेंं सिर्फ किसी भी काम को करने का जज्बा होना चाहिए। फिर कोई भी अड़चन आपको अपने लक्ष्य से नही रोक सकती यही कर दिखाया गुरूगा्रम के वजीरपूर गावं की आठ साल की माही ने माही ने आठ साल की उम्र्र में नेशनल लेवल की प्रतियोगिता में 10 पदक जीत कर शहर वासियों का सर गर्व से उचां कर दिया। माही अपनी तैयारियों को लगातार जारी किए हे। उसका कहना है कि वह और भी पदक जीतना चाहती है और अब उसकी इच्छा देश के लिए पदक जीतने की है।

  • गुरूग्राम की  गोल्डन गर्ल माही ने झटके 10 पदक

    गुरूग्राम की गोल्डन गर्ल माही ने झटके 10 पदक

    गुरूग्राम के वजीरपुर गाव की रहने वाली आठ साल की बेटी माही चौहान ने ग्वालियर मेंं खेली गई नेशनल जिम्रास्टीक चैपियनशिप मेंं 10 पदक जीत कर प्रदेश व शहर का नाम रोशन किया है। माही की इस उपलब्धि पर जिला परिषद्र के पार्षदो ने माही को सम्मानित किया। कहते है कि मन मेंं सिर्फ किसी भी काम को करने का जज्बा होना चाहिए। फिर कोई भी अड़चन आपको अपने लक्ष्य से नही रोक सकती यही कर दिखाया गुरूगा्रम के वजीरपूर गावं की आठ साल की माही ने माही ने आठ साल की उम्र्र में नेशनल लेवल की प्रतियोगिता में 10 पदक जीत कर शहर वासियों का सर गर्व से उचां कर दिया। माही अपनी तैयारियों को लगातार जारी किए हे। उसका कहना है कि वह और भी पदक जीतना चाहती है और अब उसकी इच्छा देश के लिए पदक जीतने की है।

  • गुरूग्राम की  गोल्डन गर्ल माही ने झटके 10 पदक

    गुरूग्राम की गोल्डन गर्ल माही ने झटके 10 पदक

    गुरूग्राम के वजीरपुर गाव की रहने वाली आठ साल की बेटी माही चौहान ने ग्वालियर मेंं खेली गई नेशनल जिम्रास्टीक चैपियनशिप मेंं 10 पदक जीत कर प्रदेश व शहर का नाम रोशन किया है। माही की इस उपलब्धि पर जिला परिषद्र के पार्षदो ने माही को सम्मानित किया। कहते है कि मन मेंं सिर्फ किसी भी काम को करने का जज्बा होना चाहिए। फिर कोई भी अड़चन आपको अपने लक्ष्य से नही रोक सकती यही कर दिखाया गुरूगा्रम के वजीरपूर गावं की आठ साल की माही ने माही ने आठ साल की उम्र्र में नेशनल लेवल की प्रतियोगिता में 10 पदक जीत कर शहर वासियों का सर गर्व से उचां कर दिया। माही अपनी तैयारियों को लगातार जारी किए हे। उसका कहना है कि वह और भी पदक जीतना चाहती है और अब उसकी इच्छा देश के लिए पदक जीतने की है।

Advertisement