पूर्व NSG कमांडो ने सरपंच दोस्त को गोलियों से भूना

पूर्व NSG कमांडो ने सरपंच दोस्त को गोलियों से भूना
Advertisement

 

दिल्ली के पास साईबर सिटी गुरुग्राम में एनएसजी के रिटायर्ड कमांडो ने मानेसर के पास कासन गांव के मौजूदा सरपंच को गोलियों से भून दिया जिससे सरपंच ने अस्पताल पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दिया । हालांकि हत्या के बाद रिटायर्ड कमांडो ने खुद पुलिस थाने जाकर अपने आप को पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया । सरपंच की हत्या के बाद गांव में तनाव का माहौल है जिसके चलते गांव और अस्पताल में भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया है । वहीं पुलिस हत्या का शुरुआती कारण पैसों का लेनदेन मान कर चल रही है । गांव वालों के मुताबिक दोनों में गहरी दोस्ती भी थी लेकिन अचानक रिटायर्ड कमांडो के इस कदम से हर कोई अचंभित है ।

 

Advertisement

दरअसल बुधवार शाम करीब साढे आठ बजे मानेसर के पास कासन गांव के सरपंच बहादुर सिंह अपनी डेयरी पर थे तभी वहां उनके ही गांव का रहने वाला पूर्व एनएसजी कमांडो सुंदर वहां आया और आते ही अपनी लाइसेंसी पिस्टल से सरपंच बहादुर सिंह पर ताबड़तोड़ फायरिंग करनी शुरु कर दी । जब तक कोई कुछ समझ पाता तब तक सुंदर ने पूरी मैगजीन खाली कर दी । जब तक कोई कुछ समझ पाता तब तक कमांडो सुंदर अपना काम कर चुका था । ग्रामीणों की माने तो सरपंच बहादुर भी फौज से ही रिटायर्ड था इसीलिए सरपंच और सुंदर में गहरी दोस्ती थी लेकिन अचानक सुंदर के ऐसे कदम से हर कोई हैरान है । घायल सरपंच बहादुर सिंह को तुरंत मानेसर के रॉकलैंड अस्पताल ले जाया गया लेकिन डॉक्टर्स ने सरपंच को मृत घोषित कर दिया । सरंपच को गोलियों से भूनने की खबर गांव में आग की तरह फैल गई । सरपंच की हत्या की खबर सुनते ही कासन गांव के सैंकड़ो लोग रॉकलैंड अस्पताल पहुंच गए ।

सरपंच की हत्या के बाद ग्रामीण उग्र ना हो जाए इसीलिए पुलिस ने भी एतिहातन अस्पताल पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया । वारदात की सूचना के बाद गुरुग्राम पुलिस के डीसीपी, एसीपी समेत करीब आधा दर्जन थानों के एसएचओ मौके पर पहुंचे । खबर ये भी है कि आरोपी पूर्व कमांडो ने हत्या के बाद खुद आईएमटी थाने में जाकर सरेंडर कर दिया । शुरुआती जांच में पता चला है कि सरपंच को करीब 9 गोलियां लगी है लेकिन पूरी संख्यां पोस्टमार्टम के बाद ही साफ हो पाएगी । 

Tags:

# muder sarpanch khabarlive gurgaon haryana
Advertisement