कॉर्पोरेट हाऊसिज भी स्वास्थ्य सेवाओं में योगदान दें : बी के राजोरा

कॉर्पोरेट हाऊसिज भी स्वास्थ्य सेवाओं में योगदान दें : बी के राजोरा
Advertisement

  गुरुग्राम (प्रवीण  शर्मा) गुरुग्राम के सिविल सर्जन डा. बी के राजौरा ने आज स्थानीय सैक्टर-45 में परनो रिका कंपनी द्वारा संचालित की जा रही डिस्पेंसरी का दौरा कर निरीक्षण किया। उन्होंने इस डिस्पेंसरी के बेहत्तर ढंग से संचालन की प्रशंसा करते हुए गुरुग्राम में कार्यरत अन्य कॉर्पोरेट हाऊसिज से अपील की कि वे भी स्वास्थ्य सेवाओं में योगदान दें। 

डिस्पेंसरी के प्रबंधक कर्नल (सेवानिवृत) जोगिंद्र अहलावत ने डा. राजौरा को बताया कि इस डिस्पेंसरी में गांव कन्हैई तथा आसपास की कॉलोनियों रहने वाले लोगों को नाममात्र की 10 रूपए की फीस पर सस्ती ईलाज सुविधाएं मुहैया करवाई जा रही हैं। प्रतिदिन औसतन 150 से 200 मरीज डिस्पेंसरी में आते हैं। उन्होंने बताया कि डिस्पेंसरी में आने वाले मरीजों को नामी कंपनियों की दवाइयां नि:शुल्क दी जाती हैं। गरीबों के लिए ईलाज बिल्कुल फ्री होता है। उनके लिए पर्ची बनवाने से लेकर डाक्टर को दिखाने, एक्स-रे, ईसीजी, अल्ट्रासाउंड, सिटी स्कैन आदि सभी सुविधाएं मुफत होती हैं। कर्नल अहलावत ने बताया कि ब्लड  शुगर टैस्ट करने की सुविधा तो डिस्पेंसरी में ही उपलब्ध है। 

 

Advertisement

उन्होंने बताया कि डिस्पेंसरी में प्रतिदिन स्त्रीरोग विशेषज्ञ डा. मीनाक्षी शुक्ला तथा वरिष्ठ चिकित्सक डा. वसूरी मरीजों को देखते हैं तथा दवाइयां लिखते हैं, जो उन्हें डिस्पेंसरी से ही मुफत दी जाती हैं। कर्नल अहलावत ने यह भी बताया कि उनकी डिस्पेंसरी के दो चिकित्सक दो अलग-अलग मोबाइल वैनो में अलग-अलग रूट पर ग्रामीण क्षेत्रों में रोगियों का ईलाज करने जाते हैं और देखकर मुफत दवाई देते हैं। उन्होंने बताया कि डिस्पेंसरी में सोमवार तथा शुक्रवार को नेत्र रोग विशेषज्ञ डा. अरूण मेहरा आते हैं जो दृष्टि दोष के रोगियों का ना केवल मुफत में ईलाज करते हैं बल्कि यदि मरीज को आवश्यकता हो तो मुफत में चश्मा भी कंपनी की तरफ से देते हैं। इसी प्रकार, डिस्पेंसरी में शुक्रवार को दंत रोग विशेषज्ञ भी मरीजों का ईलाज नि:शुल्क  करने के लिए आते हैं। 

इस निरीक्षण के बाद डा. राजौरा ने अंतर्राष्टीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में डिस्पेंसरी में उपस्थित महिला मरीजों को परनो रिका कंपनी की तरफ से उपहार स्वरूप भेंट भी दी। इस मौके पर उनके साथ उप सिविल सर्जन डा. शशि भी थी।

Tags:

# gurgaon haryana health स्वास्थ्य
Advertisement