UP में कांग्रेस और सपा के बीच गठबंधन तय!, अखिलेश-राहुल, डिंपल-प्रियंका आएंगे एक साथ...

UP में कांग्रेस और सपा के बीच गठबंधन तय!, अखिलेश-राहुल, डिंपल-प्रियंका आएंगे एक साथ...
Advertisement

लखनऊ. UP चुनाव से पहले सपा-कांग्रेस के बीच जल्द गठबंधन होने जा रहा है। बुधवार को इसे लेकर राहुल गांधी ने दिल्‍ली में यूपी के कांग्रेसी नेताओं की मीटिंग भी बुलाई है। माना जा रहा है कि इस हफ्ते के ख़त्म होने तक दोनों पार्टियां साथ में इलेक्‍शन कैम्‍पेन शुरू कर सकती हैं।

सूत्रों की मानें तो कैम्‍पेन में अखिलेश यादव और डिंपल यादव के साथ राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी शामिल होंगी। कहा जा रहा है कि 90 सीटों पर बात बन गई है। दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन का एलान प्रियंका गांधी की मौजूदगी में किया जाएगा।

इस खबर के बाद ऐसे संकेत भी मिल रहे हैं कि इस बार के चुनाव में प्रियंका काफी एक्टिव रहेंगी। बता दें कि ये पहला मौका होगा, जब 27 साल से यूपी की सत्‍ता से दूर रही कांग्रेस का सपा से गठबंधन होगा। 

Advertisement

 

UP में कांग्रेस कभी नहीं रही कॉन्फिडेंट...

- सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस भले ही यूपी में पॉलिटिकल स्‍ट्रैटजिस्‍ट प्रशांत किशोर को पार्टी की रणनीति बनाने के लिए आई हो, लेकिन वह शुरू से ही यूपी में कॉन्फिडेंट नहीं रही है।

Advertisement

- इसके अलावा यूपी में कांग्रेस 27 साल से सत्‍ता से दूर रही है। ऐसे में गठबंधन होने से कांग्रेस को ऐसी उम्‍मीद है कि इस बार उसे कुछ फायदा हो सकता है।

- सूत्रों की मानें तो यूपी में होने वाली कांग्रेस की रैलियों की स्‍ट्रैटजी प्रशांत किशोर ही तैयार करेंगे।

 

गठबंधन सपा के लिए जरूरी, कांग्रेस की मजबूरी

- सीनियर जर्नलिस्‍ट योगेश श्रीवास्‍तव का कहना है कि यूपी में कांग्रेस हमेशा गठबंधन के जरिए सत्‍ता में रही है। कांग्रेस का बसपा से ऐसे ही गठबंधन हुआ था। ये पहला मौका होगा, जब कांग्रेस का सपा से गठबंधन होगा।

- हालांकि, लोगों का मानना है कि इस बार के चुनाव में असली लड़ाई बीजेपी और बसपा की ही है। गठबंधन सपा के लिए जरूरी और कांग्रेस के लिए मजबूरी है।

Tags:

National news state news New delhi news political news Up news लखनऊ UP चुनाव सपा-कांग्रेस गठबंधन
loading...
Advertisement