दावा: नोटबंदी की बलि चढ़ी 35 फीसदी लोगों की नौकरियां!

दावा: नोटबंदी की बलि चढ़ी 35 फीसदी लोगों की नौकरियां!
Advertisement

नई दिल्ली। सूक्ष्म और लघु उद्योग नोटबंदी की भेंट चढ़ गए। 8 नवंबर को नोटबंदी का फैसला लागू होने के 34 दिन के भीतर ही सूक्ष्म और लघु उद्योग में काम करने वाले 35 फीसदी लोगों की नौकरियां चली गई।

साथ ही इस सूक्ष्म और लघु उद्योग का मुनाफा भी 50 प्रतिशत तक कम हो गया।  ये आकंड़े भारत में मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र की सहसे बड़ी संस्था, ऑल इंडिया मैन्युफैक्चरर्स ऑर्गनाइजेशन (एआईएमओ) ने जारी किए हैं।

एआईएमओ ने अपने अध्यन में बताया कि अभी यह संकट और गहराएगा और मार्च महीने से पहले इस क्षेत्र में रोजगार में 60 फीसदी गिरावट आएगी, साथ ही मुनाफे में भी 55 फीसदी की गिरावट की आशंका है। 

Advertisement

एआईएमओ संस्था, सूक्ष्म, लघु, मध्यम और बड़े स्तर के उद्योग में काम कर रही 3 लाख से ज्यादा कंपनियों का प्रतिनिधित्व करती हैं।

संस्था ने अपने अध्ययन में कहा कि, नोटबंदी का असर यूं तो सभी उद्योगों पर पड़ा है लेकिन सूक्ष्म और लघु उद्योग पर इसका सबसे बुरा असर पड़ा है।

Tags:

National news Finance News Business news Noteban job lost 35 percent job lost AIMO नोटबंदी
loading...
Advertisement