• मनोहर सरकार, तीन साल-हरियाणा बदहाल: पूर्व सीएम हुड्डा

    पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने भाजपा सरकार के कार्यकाल के तीन साल पूरे हाने पर कहा कि इस कार्यकाल की समीक्षा केवल एक पंक्ति में की जा सकती है - तीन साल/हरियाणा बदहाल । हुड्डा ने कहा कि ऐसा लगता है कि हरियाणा में सरकार की बजाये एक इवेंट मैनेजमैंट कम्पनी काम कर रही है। हरियाणा की जनता की खून-पसीने की कमाई का 1600 करोड़ रूपया प्रदेश की स्वर्ण जयंति वर्ष में सरकार ने अपनी वाहवाही करवाने पर खर्च कर दिया। इतनी बड़ी रकम से विकास कार्य करवाये जाते तो प्रदेश का भला होता।

  • मनोहर सरकार, तीन साल-हरियाणा बदहाल: पूर्व सीएम हुड्डा

    पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने भाजपा सरकार के कार्यकाल के तीन साल पूरे हाने पर कहा कि इस कार्यकाल की समीक्षा केवल एक पंक्ति में की जा सकती है - तीन साल/हरियाणा बदहाल । हुड्डा ने कहा कि ऐसा लगता है कि हरियाणा में सरकार की बजाये एक इवेंट मैनेजमैंट कम्पनी काम कर रही है। हरियाणा की जनता की खून-पसीने की कमाई का 1600 करोड़ रूपया प्रदेश की स्वर्ण जयंति वर्ष में सरकार ने अपनी वाहवाही करवाने पर खर्च कर दिया। इतनी बड़ी रकम से विकास कार्य करवाये जाते तो प्रदेश का भला होता।

  • हरियाणा में पत्रकारों के लिए शुरू हुई पेंशन योजना, 60 साल की उम्र के बाद मिलेगा 10000 रुपया महीना

    हरियाणा में पत्रकारों के लिए शुरू हुई पेंशन योजना, 60 साल की उम्र के बाद मिलेगा 10000 रुपया महीना

    तीन साल पूरे होने पर हरियाणा की मनोहर सरकार सरकार ने पत्रकारों को पेंशन के तौर पर विशेष उपहार दिया है। अब 60 साल से अधिक उम्र के पत्रकारों को सरकार दस हजार रुपया मासिक पेंशन देगी। ऐसा करने वाली देश की यह पहली सरकार है। हरियाणा की इस पहल को अन्य राज्यों द्वारा भी शुरू करने का दबाव बढ़ गया है। पत्रकारों ने इस पहल का स्वागत किया है।

  • Gurugram: स्कूल्स में बच्चों की सुरक्षा के लिए प्रशासन सख्त, सुरक्षा संबंधी सैल्फ सर्टिफिकेशन जमा ना कराने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई

    Gurugram: स्कूल्स में बच्चों की सुरक्षा के लिए प्रशासन सख्त, सुरक्षा संबंधी सैल्फ सर्टिफिकेशन जमा ना कराने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई

    रेयान स्कूल के प्रद्युमन हत्याकांड के बाद सतर्क हुए जिला प्रशासन ने निजी स्कूल्स को बच्चों की सुरक्षा के लिए कुछ विशेष इंतजाम करने को कहा था। इसके तहत अभी तक जिन निजी विद्यालय संचालकों ने अभी तक स्कूल परिसर में बच्चों की सुरक्षा संबंधी सैल्फ सर्टिफिकेशन जिला शिक्षा अधिकारी को जमा नहीं करवाया है उनके खिलाफ भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

  • सु-कैम की नई पहल: अब अपने समय के अनुकूल काम कर सकेंगी महिला कर्मचारी

    सु-कैम की नई पहल: अब अपने समय के अनुकूल काम कर सकेंगी महिला कर्मचारी

    सु-कैम के प्रबंध निदेशक कुंवर सचदेव ने कहा कि- "हमने हमेशा महिलाओं की चिंताओं को ध्यान में रखा है, यह नीति कार्यस्थल पर महिलाओं के कल्याण को सुनिश्चित करेगा। महिलाओं पर परिवार की विशेष जिम्मेदारी होती है, और हम सब इस तथ्य से भलीभांति अवगत हैंI इस नीति से उन लोगों को सशक्त बनाने में काफी मदद मिलेगा, जो पारिवारिक या अन्य मुद्दों के कारण कैरियर नहीं बना पाते हैं।

  • अब राम रहीम कहे मुझे मौत दो !

    अब राम रहीम कहे मुझे मौत दो !

    राम रहीम अब जज को भी कह दें। उसे अपने सारे दुष्कर्मों और जघन्य अपराधों के बारे में बता दें। वे नहीं बताएंगे तो भी उन्हें बलात्कार के लिए 7 साल और हत्याओं के लिए आजीवन जेल में रहना होगा। अब वे यह मांग करें कि वे साधारण नागरिक नहीं हैं, असाधारण हैं, इसलिए उनकी सजा भी असाधारण होनी चाहिए। उन्हें कम से कम सजा-ए-मौत मिलनी चाहिए और उनके शव को कुत्तों से नुचवाकर लाखों भक्तों के सामने नष्ट किया जाना चाहिए। यदि गुरमीत राम रहीम इतनी हिम्मत कर सकें तो उनकी मृत्यु के बाद वे अमर हो जाएंगे।

  • राम-रहीम के बेरहम भक्त: डॉ. वेदप्रताप वैदिक

    राम-रहीम के बेरहम भक्त: डॉ. वेदप्रताप वैदिक

    यहां सवाल सरकारों के निकम्मेपन का भी उभरता है। केंद्र सरकार, हरयाणा और पंजाब की सरकारों ने भीड़ को भगाने का इंतजाम पहले से क्यों नहीं किया ? क्योंकि हमारे नेता वोटों के भिखारी हैं। उन्हें इन ‘गुरुओ’ के इशारे पर थोक वोट मिल जाते हैं। वे इन्हें नाराज़ नहीं कर सकते ? उनका बर्ताव शासक का नहीं, याचक का होता है। अब यदि राम-रहीम के भक्त बेलगाम हिंसा करेंगे तो पता नहीं कितनों की बलि चढ़ेगी। इसके लिए कौन जिम्मेदार होगा ?

  • राम-रहीम के बेरहम भक्त: डॉ. वेदप्रताप वैदिक

    राम-रहीम के बेरहम भक्त: डॉ. वेदप्रताप वैदिक

    यहां सवाल सरकारों के निकम्मेपन का भी उभरता है। केंद्र सरकार, हरयाणा और पंजाब की सरकारों ने भीड़ को भगाने का इंतजाम पहले से क्यों नहीं किया ? क्योंकि हमारे नेता वोटों के भिखारी हैं। उन्हें इन ‘गुरुओ’ के इशारे पर थोक वोट मिल जाते हैं। वे इन्हें नाराज़ नहीं कर सकते ? उनका बर्ताव शासक का नहीं, याचक का होता है। अब यदि राम-रहीम के भक्त बेलगाम हिंसा करेंगे तो पता नहीं कितनों की बलि चढ़ेगी। इसके लिए कौन जिम्मेदार होगा ?

  • हरियाणा सरकार ने राजनैतिक फायदे के लिए जलने दिया शहर : हाई कोर्ट

    हरियाणा सरकार ने राजनैतिक फायदे के लिए जलने दिया शहर : हाई कोर्ट

    सिरसा के डेरा सच्चा के चीफ बाबा राम रहीम को कोर्ट द्वारा बलात्कार का दोषी ठहराए जाने के तुरंत बाद हुई व्यापक हिंसा पर पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट ने हरियाणा की मनोहर लाल सरकार को लगातार तीसरे दिन जमकर लताड़ा है. कोर्ट ने कहा कि सरकार ने राजनैतिक फायदे के लिए शहर को जलने दिया. तीखी टिप्पणी करते हुए कोर्ट ने कहा कि ऐसा लगता है कि सरकार ने सरेंडर कर दिया. कोर्ट ने कहा कि राजनैतिक निर्णयों ने प्रशासनिक निर्णयों को पंगु बनाकर रखा दिया।

  • बलात्कार मामले में  बाबा राम रहीम  दोषी करार

    बलात्कार मामले में बाबा राम रहीम दोषी करार

    साध्वी यौन शोषण मामले में पंचकुला सीबीआइ कोर्ट ने बाबा राम रहीम को दोषी करार दिया है। अगली सुनवाई 28को होगी। दोषी करार दिए जाने के बाद हरियाणा व पंजाब में तनाव। में हाई अलर्ट। कई शहरों की बिजली काटी गई.

Advertisement